June 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

बेमौसम बारि‍श से खि‍ले कि‍सानों के चेहरे, पर ठंड ने बढ़ाई मुश्‍कि‍ल

मुरादाबाद डीवीएनए। शनि‍वार रात से रूक रूककर हो रही बारि‍श से जहां कि‍सानों के चेहरे खि‍ल गए हैं, वहीं ठंड बढ़ने से आमजन की मुश्‍कि‍लें भी बढ़ गई हैं। चूंकि‍ इस समय की बारि‍श में नत्रजन की मात्रा अधि‍क होती है, इसलि‍ए यह बारि‍श गेहूं की फसल के लि‍ए रामवाण से कम नहीं है।

इस बारि‍श ने कि‍सानों की मुश्‍कि‍लों को कम कर दि‍या है। गेहूं ही नहीं अन्‍य फसलों के लि‍ए भी यह बारि‍श फायदेमंद है। जहां कि‍सानों की सि‍ंचाई की समस्‍या कुछ समय के लि‍ए कम हो गई है।

अमरोहा ही नहीं बल्‍कि‍ पूरे मुरादाबाद मंडल में बारि‍श ने कि‍सानों की परेशानि‍यों को काफी हद तक कम कर दि‍या है।

ग्रामीणों का कहना है कि बोआई के एक माह बाद बारि‍श जरूरी मानी जाती है, इससे गेहूं की पैदावार अच्‍छी होती है। गन्‍ने की फसल के साथ-साथ सब्‍जी की फसलों के लि‍ए भी यह बारि‍श फायदेमंद है। जि‍ला कृषि‍ अधि‍कारी राजीव कुमार सि‍ंह कहते हैं कि‍ ये बारि‍श सभी तरह की फसलों के लि‍ए फायदेमंद है।