June 13, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

दुकान बेचने के नाम पर 35 लाख की ठगी, 5 के खिलाफ मुकदमा

मुरादाबाद डीवीएनए। फ़र्ज़ी कागज़ात दिखाकर दुकान बेचने के नाम पर 35 लाख रुपये की ठगी करने की शिकायत पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने दो महिलाओं सहित 5 के विरुद्ध धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

ठाकुरद्वारा के वार्ड नं 22 निवासी शमीमुल हसन पुत्र अब्दुल हसन ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर शिकायत की थी कि नवम्बर 2019 में उसके पास कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रतुपुरा निवासी दीपक पुत्र पप्पू, मालती देवी पत्नी पप्पू ,विनीता पत्नी दीपक,संदीप व विकास पुत्रगण पप्पू आये और उन्होंने कहा कि उसके बराबर वाली दुकान उन्होंने ठाकुरद्वारा निवासी इशरत जहां पत्नी अनीस मंसूरी से खरीद ली है। उक्त लोगों ने उसे दुकान की खरीदारी के कागज़ भी दिखाए और कहा कि उनको दुकान स्वामी को पैसा देना है लेकिन उनके पास पैसा नहीं है इसलिए वह दुकान बेचना चाहते हैं।

पीड़ित का कहना था कि उक्त दीपक उसकी दुकान पर काम कर चुका है इसलिए उसने भरोसा कर लिया और 35 लाख में दुकान का सौदा कर गवाहों के सामने 5 लाख रुपये बयाना दे दिया। इसके बाद 18 नवंबर19 को 3 लाख 35 हज़ार, 10 दिसम्बर 19 को 2 लाख,23 अप्रेल 20 को 9 लाख, 6 फरवरी को 5 लाख, तथा 8 जून 2020 को 10 लाख 65 हज़ार रुपये गवाहों के सामने दे दिए। 15 जुलाई को उक्त लोगों ने उसे इकरार नामा करा दिया लेकिन जब बैनामा कराने के लिए कहा तो वह टाल मटोल करने लगे तब शक होने पर उसने उक्त लोगों द्वारा दिखाए गए दुकान के कागज़ इशरत जहां को दिखाए तब मालूम हुआ कि यह सब फ़र्ज़ी हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने उक्त सभी के विरुद्ध धोखाधड़ी सहित अनेक धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
संवाद यामीन विकट