July 30, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

बढ़ती ठंड को देख लायन सफारी में किया गया हीटर का इंतजाम

लखनऊ,(डीवीएनए)।उत्तर प्रदेश में तेजी के साथ गिरते पारे और देर रात अचानक बढ़ रही ठंड को देखते हुए अब इटावा के लायन सफारी पार्क में बब्बर शेर और तेंदुआ समेत अन्य वन्य जीवों के बाड़ों को गरम रखने के लिए पुआल और घास के अलावा 38 हीटरों का इंतजाम किया गया है।

पार्क के रेंजर विनीत सक्सेना ने बताया कि पार्क में ब्रैडिंग सेंटर, एनिमल हाउस,क्वारंटीन सेंटर समेत सभी जगह कड़ाके की सर्दी में तापमान को दुरुस्त रखने के लिए विशेष और व्यापक इंतजाम किए गए हैं।बाड़ों में जमीन पर पुआल और घास के साथ बोरे बिछाए गए हैं।छत से ओस और हवा से बचाव के लिए बाड़ों पर शीट या चटाई लगाई गई है।खिड़कियों में चटाई लगाकर अनेक बाड़ों को पैक कर दिया गया है।

उन्होने बताया कि सभी केंद्रों पर रूम हीटर, हीटर ,पुआल, कारपेट,पर्दे और खिड़कियों में शीशे आदि लगाए गए हैं ताकि किसी भी तरह से जानवरों तक हवा ना पहुंच सके और सभी सेंटरों का तापमान गर्माहट भरा बना रहे।वैसे तो पूरे के पूरे सफारी में ही तापमान बहुत ही अधिक कम रहता है लेकिन एनिमल हाउस पारा अन्य स्थानों के मुकाबले सबसे कम रहता है।यहां चार शेरो के लिये पांच हीटरों का इंतजाम किया गया है।इसमे दो आयल हीटर है और तीन फाग हीटर है।

इसके साथ ही पूरे इटावा सफारी पार्क में 38 हीटर लगाए गए है। विनीत सक्सेना ने बताया कि जहां शेर शावक और भालू इत्यादि को रखा है वहां तापमान मापने के लिये थर्मामीटर को लगा कर रखा गया है जिसके जरिये समय समय पर आन ड्यूटी सफारी स्टाप तापमान चेक करता रहता है।

इसके साथ ही जानवरों के रखने के सभी स्थानों को पूरी तरीके से लाक करके रखा गया है।जहां प्लास्टिक सीट से कवर किया गया है वही दूसरी ओर तिरपाल डाला गया है इससे अंदर हवा जाने की कोई गुंजाइश नही रखी गयी है।केवल शुद्ध हवा के लिए थोड़े से स्थान को हर केंद्र में छोड़ कर रखा गया है।

उन्होने बताया कि इटावा सफारी पार्क में बै्रडिंग सेंटर का तापमान रात में 7 से लेकर के 10 तक गिर जाता है।इसके साथ ही एनिमल हाउस 1 का तापमान 8 के आसपास रात को रहता है जबकि सुबह 4 बजे के आसपास तापमान 13 और दिन में 22 या 23 तक रहता है।इससे ऊची जगह पर तापमान 28 डिग्री तक भी रहता है।जानवरों को गरम रखने के लिए तापमान मेंटेन रखने के लिये यह सब इंताजाम किये गए है।हीटर के अलावा नाइट सेल के अंदर लकड़ी के तख्ते डाल कर के रखे गए।उनमें पुआल की व्यवस्था कर दी गयी है और रोशनदान को एयर टाइट बंद करा दिया गया है।पुआल की गर्मी से जानवरों को खासा आनंद मिलता है जो स्टाफ और ड्यूटी रहता है वह इस बात को देख कर के बताता है कि जानवर ज्यादातर समय पुआल पर ही बैठा रहता है इससे यह बात स्पष्ट होती है कि पुआल से जानवरों को गर्मी मिलती है।

इटावा सफारी पार्क में चार लेपर्ड ओर दो लेपर्ड शावक है।18 बब्बर शेर है जिसमे 9 नर और 9 मादा है।3 भालू है और 66 के आसपास ब्लैक बक है।12 साभार ओर 37 हिरण है।इतने जानवर यहां हैं जो अपने अपने नाइट सेड में रहते हैं।इस समय तापमान सफारी में सात डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंचा हुआ है।वैसे यह तापमान जनवरी माह में पहुंचा करता था।वैसे सफारी परिसर में अलग स्थानों पर अलग तापमान रिकार्ड किया है।