January 21, 2022

DVNA

Digital Varta News Agency

निर्माण श्रमिक पंजीकरण शिशु हितलाभ योजना, मातृत्व हितलाभ योजना एवं बालिका मद्द योजना से हो लाभान्वित

आगरा ,(डीवीएनए )उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अन्तर्गत पंजीकृत निर्माण कर्मकारों/श्रमिकों के कल्याण के लिये अनेक योजनायें संचालित की जा रहीं हैं। यथा- शिशु हितलाभ योजना के तहत् सभी पंजीकृत निर्माण कर्मकारों/श्रमिको (पुरुष एवं महिला दोनों) के अधिकतम् प्रथम दो नवजात शिशुओं के, लड़का होने पर रु0 20,000 एवं लड़की होने पर रु0 25000 की धनराशि एकमुश्त पुष्टाहार हेतु उपलब्ध कराये जाने का प्राविधान है।
इसी प्रकार मातृत्व हितलाभ योजनान्तर्गत पंजीकृत लाभार्थी महिला श्रमिक के संस्थागत प्रसव प्रमाण-पत्र सहित आवेदन करने पर महिला कर्मकार को मातृत्व हितलाभ के रुप में उसकी कार्य श्रेणी के अनुसार निर्धारित न्यूनतम् मजदूरी की दर से 03 माह के मजदूरी के समतुल्य धनराशि तथा रु0 एक हजार-चिकित्सा बोनस के रुप में दिया जाता है एवं पंजीकृत कर्मकार के पुरुष होने पर उसकी पत्नियों को रु0 6,000 की धनराशि, पुष्टाहार हेतु एकमुश्त अधिकतम् दो प्रसव तक उपलब्ध कराया जाता है।
उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा संचालित बालिका मद्द योजना के अन्तर्गत सभी पंजीकृत निर्माण कर्मकारों/श्रमिकों के परिवार में जन्मी पहली बालिका को आर्थिक मदद करके आत्मनिर्भर बनाना योजना का उद्देश्य है। इस योजना में बालिका के जन्म होने पर रु0 25,000 की धनराशि सावधि जमा के रूप में दिया जायेगा, जो बालिका के 18 वर्ष की आयुपूर्ण होने पर भुगतान होगा। दूसरी संतान भी बालिका होने पर, दोनों बालिकाओं को हितलाभ अनुमन्य होगा। यदि प्रथम और द्वितीय प्रसव में एक से अधिक बालिका संतानो का जन्म होता है तो सभी बालिकाओं को हितलाभ अनुमन्य होगा। विधिपूर्वक गोद ली गयी बालिका को प्रथम बालिका मानते हुए हितलाभ अनुमन्य होगा। शर्त है कि लाभार्थी ने कम से कम एक वर्ष तक बोर्ड का सदस्य हो अर्थात् कम से कम दो बार अंशदान बोर्ड खाते में जमा कराया हो।
जनपद आगरा के पात्र निर्माण श्रमिक अपना पंजीयन कराने हेतु जिला श्रम कार्यालय अथवा जन सेवा केन्द्र से सम्पर्क कर सकते हैं। ऐसे सभी निर्माण श्रमिक जो कि 18 से 60 वर्ष की आयु के हैं और उन्होंने पंजीकरण के समय पिछले 12 महीनों में 90 दिनों तक निर्माण श्रमिक के रूप में कार्य किया है। पंजीकरण फार्म के साथ दो फोटो, आधार कार्ड और बैंक पासबुक की छायाप्रति, परिवार के सदस्यो के आधार कार्ड की छायाप्रति के साथ निर्माण श्रमिक के रूप में गत् 12 महीनों में 90 दिनों तक कार्य करने का प्रमाण पत्र/स्वः घोषणा पत्र सहित रू0 20 पंजीकरण शुल्क एवं रू0 20 एक वर्ष का अशंदान के साथ पंजीयन करा सकते है। निर्माण श्रमिक को प्रत्येक वर्ष रू0 20 का अंशदान जमा कराकर विभिन्न योजनाओं में लाभ प्राप्त करने हेतु अपने पंजीकरण की निरन्तरता रखनी होगी।
संवाद , दानिश उमरी