January 29, 2022

DVNA

Digital Varta News Agency

DM “अटल योजना” पर अटल, निर्देशों की कसी कमान

बांदा डीवीएनए। जिलाधिकारी आनन्द कुमार सिंह नें अटल भूजल योजना में तेजी लाये जानें के अपने अटल इरादों की पेश कस का इरादा स्पष्ट कर दिया। कलेक्ट्रेट सभागर में योजना हेतु गठित जनपद स्तरीय कार्यक्रम इकाई की बैठक में उन्होनें कहा नये साल में नई सकारात्मकऊर्जा से कार्य होना चाहिए नकरात्मक ऊर्जा का क्षरण करें ताकि समय और गुणवत्ता से कार्य हो। आपको बता दें की योजना में जिले के पांच विकास खंडों के 95 गांव शामिल हैं। योजना का उद्देश्य हर घर में पीने का साफ पानी पहुंचाना है। इसमें विश्व बैंक और केंद्र सरकार की 50-50 फीसदी की भागेदारी है।
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 95 वीं जयंती पर 25 दिसंबर 2019 को केंद्र सरकार ने यह योजना लागू की थी। पांच वर्षीय इस योजना में छह हजार करोड़ खर्च होनें हैं। बुंदेलखंड सहित प्रदेश के सभी 78 जिलों के 193 विकास खंडों की 8350 ग्राम पंचायतों को योजना में शामिल किया गया है।
डीएम आनंद कुमार सिंह ने सीडीओ तथा योजना से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिया की यह सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना है।इसे समेकित ढंग से आगे बढ़ाया जाये। इसमें जनपद के महुआ, बड़ोखर खुर्द, नरैनी, जसपुरा और तिंदवारी विकास खंडों का चयन किया गया है। इसकी मानीटरिंग और क्रियान्वयन के लिए शासनादेश के अनुसार जिला स्तरीय कार्यक्रम यूनिट गठित है।यह सही अंजाम का पालन करें। भूगर्भ जल विभाग खंड-बांदा के अधिशासी अभियंता एमए जैदी ऩे बताया की योजना में शामिल बांदा के पांच ब्लाक और उनके गांव बड़ोखर ब्लाक (18 गांव) : चमरहा, बसहरी, इटवां, गोयरा मुगली, जौरही, जमुनीपुर, कनवारा, करहिया, करछा, खैराडा, लड़ाका पुरवा, लामा, लुकतरा, मटौंध ग्रामीण, मोहन पुरवा, पचनेही, पल्हरी, उजरेहटा।
तिंदवारी ब्लाक (17 गांव) : अमलोर, अतरहट, बेंदा, बिछवाही, छिरहुंटा, डिघवट, दोहतरा, जौहरपुर, कुकुवाखास, माचा, नरी, निवाइच, पैलानी, पलरा, पिपरहरी, रेहुंटा, तारा।
जसपुरा ब्लाक (11 गांव) अदरी, अमारा, गौरीकलां, जसपुरा, नांदादेव, नरायणगढ़, नरजिता, पड़ेरी, रामपुर, सिकहुला, सिंधनकलां।
नरैनी ब्लाक (26 गांव) : बदौसा, बघेलाबारी, बनई, बरसड़ा, मानपुर, बरुआ कालिंजर, भुसासी, चंदौर, दुबरिया, गोरे मऊ कलां, गढ़ा, हड़हा माफी, जमवारा, खंदेउरा, लहुरेटा, मुकेरा, मुर्दीपुर, ओरहा, पौहार, पुकारी, सढ़ा, तरसूमा, तेरा-ब, तुर्रा, उदयपुर, रक्सी।
महुआ ब्लाक (23 गांव) बंसी, बरमनपुर, बरुआ स्योढ़ा, भसरौड़, बिगहना, छिबांव, देवरार, हुसैनपुर कलां, जरर, काजीपुर, खानपुर, खरौंच, कोलावल रायपुर, महुआ, मऊ, गिरवां, मुरवल, पनगरा, पहाड़पुर, पैगंबरपुर, रिसौरा, पतौरा, स्योढ़ाऔर तरखरी हैं।
डीएम ने सभी संबंधित अधिकारियों को सचेत किया की वह अकस्मात इस योजना की लगातार समीक्षा करेगें। कार्य में ढिलाई करनें वाले दंडित होंगे।
संवाद विनोद मिश्रा