September 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

एसपी सख्त: कोतवाल और दरोगा हुये लाइन हाजिर

बांदा (डीवीएनए)। एसपी सिध्धार्थ शंकर मीणा के कानून व्यवस्था के प्रति मजबूती के लिये तेवर बदले-बदले नजर आ रहे हैं। करतल पुलिस चैकी का पूरा स्टाफ डिस्चार्ज करनें के अगले ही दिन उन्होनें दरोगाओ को लाइन हाजिर किया।कोतवाली देहात क्षेत्र में युवक को गोली मारने वालों को न पकड़ने पर कोतवाल व हल्का इंचार्ज दारोगा को लाइन हाजिर कर दिया। वहीं एक अन्य जिला बदर अपराधी को छोड़ने के मामले में कोतवाल व दारोगा की आपस में कहासुनी हो गई थी। जिला बदर अपराधी को जेल न भेजने के मामले की भी जांच चल रही है।
एसपी सिद्धार्थ शंकर मीना ने कार्यों में लापरवाही को लेकर देहात कोतवाली के निरीक्षक रुकुमपाल सिंह व एसआइ बृजेश को लाइन हाजिर किया है। इसमें जमालपुर गांव में 13 दिसंबर को चोरों ने योगेंद्र की दुकान का ताला तोड़कर चोरी का प्रयास किया था। जिसमें योगेंद्र के भाई धर्मेद्र को चोरों ने पीछा करने पर गोली मार दी थी। जिससे कानपुर में धर्मेंद्र की उपचार के दौरान मौत हो गई थी। घटना करने वाले अभी तक पकड़े नहीं गए हैं। जिसके चलते एसपी ने दोनों के विरुद्ध कार्रवाई की है। इसके अलावा गुरेह गांव के एक जिला बदर अपराधी व उसके दो भाई चार दिन पहले खनन की शिकायत और विवाद करने के मामले में कोतवाली पकड़कर लाए गए थे। इसमें कोतवाल पर जिला बदर अपराधी को छोड़ने का आरोप था। जबकि उसके साथ पकड़े गए दो आरोपितों का शांति भंग की धारा में चालान किया गया था। इस मामले को लेकर एसआइ व निरीक्षक के बीच कहासुनी हो गई थी। एसपी ने बताया कि जिला बदर अपराधी को छोड़ने के मामले की अभी जांच चल रही है। युवक को गोली मारने के मामले में अपराधियों को न पकड़ने पर दोनों को लाइन हाजिर किया गया है।
संवाद विनोद मिश्रा