September 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

शिक्षामित्रों की भूखहड़ताल जारी, बिगड़ी शिक्षामित्रों की हालत

बाराबंकी (डीवीएनए)। नियुक्ति बहाल किए जाने की मांग को लेकर बीते 3 दिनों से जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बाहर भूख हड़ताल कर रहे शिक्षामित्रों का क्रमिक अनशन सोमवार को तीसरे दिन भी जारी रहा वहीं बीती रात 3 शिक्षामित्रों की हालत बिगड़ गई नाजुक हालत में उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें भेजा गया।
विदित हो कि 69000 शिक्षकों के सापेक्ष जिले में की गई शिक्षक नियुक्ति मामले में दो दर्जन शिक्षामित्रों ने शुक्रवार से जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बाहर तब धरना देना शुरू कर दिया था जब उनकी नियुक्ति निरस्त कर दी गई थी। धरना दे रहे शिक्षामित्रों ने आरोप लगाया था कि नियुक्ति की सारी अर्हता पूरी होने के बावजूद जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने उनकी नियुक्ति निरस्त कर दी । अनशनकारी शिक्षामित्र नियुक्ति बहाल करने की मांग कर रहे थे सुनवाई ना होने पर धरना प्रारंभ कर दिया था यही नहीं अगले दिन या धरना भूख हड़ताल में तब्दील हो गया खुले आसमान के नीचे क्रमिक अनशन पर बैठे शिक्षामित्रों में बीती रात तब अफरा.तफरी मच गई जब धर्मराज की अचानक तबीयत खराब हो गई उलटी पलटी होने से उनकी हालत नाजुक हो गई इस पर अन्य शिक्षामित्रों ने एंबुलेंस को सूचित कर उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों द्वारा उपचार किए जाने के बाद उसकी हालत में सुधार आया, इसी क्रम में नीतू वर्मा एवं उषा देवी को भी चिकित्सकों की सलाह पर घर भेज दिया गया है उधर भूख हड़ताल पर बैठे शिक्षामित्रों की सुध लेने अभी तक फिलहाल कोई नहीं आया है जिससे शिक्षामित्रों की हालत बिगड़ती जा रही है। हड़ताल का यह तीसरा दिन है शिक्षामित्र भी अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं उनका कहना है कि जब तक अवैध तरीके से निरस्त की गई नियुक्ति बहाल नहीं की जाएगी वह यहां से हटने वाले नहीं हैं।
धरने पर नफीसा बानो, किरन कुमारी, मन्नों देवी, उषा देवी, पुष्पा यादव, सरिता के अलावा प्रीति देवी प्रतिभा सिंह, सुमन लक्ष्मी देवी, कल्पना वर्मा, रेखा देवी, प्रियंका जायसवाल, सत्येंद्र कुमार वर्मा, मुकेश कुमार, रामसेवक, नीतू वर्मा, श्यामनाथ, याचना अवस्थी, अनीता धर्मराज, विवेक कुमार, रूबी खातून, रेनू गौतम बैठे हैं।