September 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

कलयुगी मां ने मासूम को झाड़ियों में फेंका

अमेठी डीवीएनए। कलयुगी माँ पांच माह के नवजात को झाड़ियों में फेंक कर चलती बनी। मानो दिल पत्थर हो चुका हो और बेजुबान कह रहा हो मां किस जुर्म की सजा देती जा रही हो।

लेकिन कुदरत का करिश्मा ये कि करीब दो घंटे तक दुधमुंहा ठंड में पड़ा रहा। अंत में ग्रामीण महिलाएं उधर पहुंची और बच्चे की आवाज सुनकर उसे उठाया, लेकिन वो पूरी तरह स्वस्थ्य रहा।

महिलाएं उसे घर लेकर आई और लालन-पालन शुरू कर दिया मामला गौरीगंज थाना क्षेत्र के अन्तर्गत नंदा का पुरवा गांव का हैं।

दिल दहलाने वाली ये घटना जिले के गौरीगंज थाना अन्तर्गत नंदा का पुरवा गांव की है। जहां पर गांव की निवासी गुड्ड्न ने बताया कि सुबह 3 बजे के आसपास वो शौच के लिए निकली थी। गांव के किनारे पर झाड़ियों में नवजात पड़ा था तो उठाकर घर लाई। उसने डायल 112 को सूचना दिया है।

साथ ही बच्चे का पालन पोषण भी शुरू कर दिया है। उधर सुबह होते ही जब गांव वालों को भनक लगी की गुड्ड्न को झाड़ियों में एक नवजात मिला है तो उसके घर पर कुछ ही समय बाद भीड़ जमा हो गई। काफी संख्या में महिलाएं जमा हो गई और कहने लगी की आखिर किस दिल की मां थी जो इस भीषण ठंड में गोद मे पालने वाले को इस तरह छोड़ कर चलती बनी।

वहीं गुड्ड्न की मां गंगा देवी ने मीडिया को बताया की हमारी बेटी लड़के को सुबह 3 बजे पाई है। वो ठीक है उसे हम पालेंगे किसी को देंगे नही। वही सूचना पर पहुंची पुलिस ने बच्चे को मौके पर ग्रामीण महिला के संरक्षण में देकर मामले की तहकीकात मे जुट गई है।
संवाद वसीम अब्बासी