September 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का करना होगा पालन

औरैया (डीवीएनए)। कोरोना वैक्सीन का इंतजार जल्द ही समाप्त होने वाला है लेकिन वैक्सीन आने और लगने के तुरंत बाद मास्क लगाने से आजादी मिलने वाली नहीं हैं। कोरोना वैक्सीन लगने के बाद भी लोगों को मास्क लगाना जरूरी होगा, क्योंकि वैक्सीन लगने के बाद भी उसके किसी भी तरह के परिणाम आने में समय लगेगा। यह कहना है मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अर्चना श्रीवास्तव का।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कोरोना से बचने का संकल्प लेकर सावधान व सजग रहना हम सबकी जिम्मेदारी है। उन सभी उपायों को अमल में लाएं जो कोरोना से बचाव के लिए जरूरी हैं । मास्क को अपना सबसे बड़ा हथियार समझें, जो बिना मास्क के घूम रहे हैं उन्हें भी मास्क लगाने के लिए प्रेरित करें।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.अशोक कुमार ने बताया कि कोरोना टीका लगने के बाद भी सबको एहतियात बरतनी होगी। कोविड-19 टीका संक्रमण से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने के साथ ही हमारी सुरक्षा भी करेगा। राज्य स्तर से अब तक प्राप्त दिशा निर्देशों के ही क्रम में इस समय बचाव का सबसे कारगर तरीका मास्क पहनना व दो गज की दूरी का पालन करना है।
उन्होंने कहा कि कोरोना प्रोटोकाल का पालन करने में कुछ भी गलत नहीं है। इससे बचने के उपाय भी अधिकांश लोग जान चुके हैं जैसे कि मास्क पहनना, हाथ धोना और भीड़-भाड़ भरे इलाके से बचना यह हमें कोरोना के साथ-साथ अन्य बीमारियों से बचाता है ।जिससे संक्रमण के फैलने का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।
डा.कुमार ने बताया कि टीकाकरण अभी अपने शुरुआती चरण में होगा। सभी के सामने जनसंख्या और अन्य चुनौतियां हैं। सभी को टीका लगने में काफी समय लगेगा। इसके बाद ही हम सब वायरस से सुरक्षित हो पाएंगे । यह पता लगाना सभी के लिए बहुत मुश्किल है कि किस व्यक्ति को वैक्सीन लगी है और किसे नहीं। इसलिए वैक्सीन के बाद भी सभी का मास्क पहनना और शारीरिक दूरी का पालन करना बेहद जरूरी है। ताकि वैक्सीन के बाद कोरोना को रोका जा सकें। उन्होंने बताया कि जब तक सकारात्मक नतीजे आने शुरू न हो जाएं, मास्क पहनना जरूरी होगा।