June 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

अलर्ट मोड पर रखे गए अस्पताल, एक दिन में लगेंगी 10 हजार लोगों को वैक्सीन

कानपुर (डीवीएनए)। शहर में अब कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारियां काफी तेजी पकड़ रही हैं। कानपुर के नोडल अधिकारी और प्रमुख सचिव, सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग अनिल गर्ग ने यहां आकर वैक्सीन वितरण की व्यवस्था की समीक्षा की। समीक्षा में बताया गया कि कानपुर में एक दिन में 10 हजार लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। वैक्सीन लगाने को लेकर सरकारी के साथ प्राइवेट हॉस्पीटल्स को भी अलर्ट मोड पर रखा गया है।
कलेक्ट्रेट सभागार में रविवार को बैठक करते प्रमुख सचिव, सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग अनिल गर्ग को बताया गया कि वैक्सीन स्टोरेज की व्यवस्था को लगातार अपग्रेड किया जा रहा है। बताया गया कि एक दिन में 100 टीमें वैक्सीन लगाने के निकलेंगी। हर टीम प्रतिदिन 100 वैक्सीन लगाएगी। इस प्रकार एक दिन में 10000 वैक्सीन लगाई जाएंगी। यह व्यवस्था सभी सीएचसी,पीएचसी तथा सरकारी अस्पतालों में की गई है। वैक्सीन लगाने को लेकर सभी प्राइवेट तथा सरकारी अस्पतालों को अलर्ट मोड पर रखा गया है,यदि कोई समस्या होती है तो निशुल्क इलाज वहां पर किया जाएगा। बताया गया कि अभी तक जो वैक्सीन की स्थिति सामने आई है उसमें पॉजिटिव रिजल्ट ही मिल रहे हैं। वैक्सीन लगाने के बाद कोई समस्या नहीं आ रही है। बैठक में कहा गया कि प्रशासन द्वारा वैक्सीन आते ही वैक्सीन लगाने की व्यवस्था की जाएगी। इस पर प्रमुख सचिव ने कहा कि अभियान में मजिस्ट्रेट पुलिस की भी ड्यूटी लगाई जाए,जिससे कहीं कोई समस्या ना हो।
यहां पर उन्होंने धान क्रय केंद्र की समीक्षा की। डीएम ने धान क्रय केंद्रों के निरीक्षण से लेकर लापरवाही पर की गई एफआइआर और अन्य कार्रवाई के बारे में बताया। बिजली व्यवस्था की समीक्षा पर उन्होंने कहा कि केस्को में जो भी शिकायतें ऑनलाइन,टवीटर तथा 1912 से प्राप्त हुई हैं उनका निस्तारण किस प्रकार से हुआ जिसकी सूची उपलब्ध कराएं। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी शिकायत निस्तारित की जाए उसकी क्रास चेकिंग भी अवश्य कराई जाए। उन्होंने सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि टेल इंडोर तक पानी अवश्य पहुंचे तथा सभी अतिक्रमण जो भी सिंचाई विभाग की भूमि पर है उनकी सूची बनाकर अभियान चलाकर उन्हें खाली कराया जाए।