June 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

यूपी दिवस के अवसर पर अवध शिल्प ग्राम में खादी फैशन-शो का आयोजन

लखनऊ डीवीएनए। अपर मुख्य सचिव, खादी एवं ग्रामोद्योग डा0 नवनीत सहगल ने बताया कि खादी के जरिए लोगों को स्वरोजगार से जोड़ने की मुहिम को तेजी से आगे बढ़ाया जा रहा है। आधुनिकता के इस युग में खादी को फैशनेबुल रूप और रंगत देने के लिए देश के महशहूर फैशन डिजाइनर्स को खादी से जोड़ा गया है। आगामी 24 जनवरी को यू0पी0 दिवस के अवसर पर अवध शिल्प ग्राम में खादी फैशन-शो का आयोजन होगा। फैशन-शो में ख्याति प्राप्त फैशन डिजाइनर रितु बेरी, रीना ढाका, मनीष मल्होत्रा, आस्मा हुसैन, रूना बनर्जी द्वारा डिजाइन किये गये खादी वस्त्रों को पहनकर माडल्स रैम्प वाॅक करते नजर आयेंगे।
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि उत्तर प्रदेश दिवस पर अवध शिल्प ग्राम में 24 जनवरी से 02 फरवरी तक खादी एवं ग्राोद्योग इकाइयों की भव्य प्रदर्शनी लगेगी। कार्यक्रम में सोलर चर्खों का वितरण होगा। इसके अतिरिक्त दोना पत्तल मशीन भी वितरित की जायेगी। प्रदेश में कुम्हारी कला को बढ़ावा देने के लिए कुम्हारी चाक एवं लाभार्थियों को ऋण स्वीकृत पत्र दिये जायेंगे। इसके साथ ही प्रदेश की विशिष्ट इकाइयों को पुरस्कृत भी किया जायेगा। इसके अतिरिक्त अवध शिल्प ग्राम में एक जिला-एक उत्पाद (ओडीओपी) के 75 स्टाल्स भी लगेंगे। इसमें सभी जिलों की खास पहचान रखने वाले उत्पादा प्रदर्शन एवं बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे।
डा0 सहगल ने बताया कि पिछले वर्षों खादी फैशन का आयोजन किया गया, जिसको काफी सराहा गया। इस प्रकार के आयोजन का मुख्य उद्देश्य खादी से युवा वर्ग को जोड़ना है। सरकार के इन प्रयासों से आज खादी युवाओं के बीच लोकप्रिय हो रही है। साथ ही लोग शादी-विवाह में भी खादी वस्त्रों को पहनना पसंद कर रहे हैं। प्रदेश में खादी की जिनती ज्यादा मांग बढ़ेगी, उतने अधिक रोजगार का सृजन होगा और स्वदेशाी को बढ़ावा भी मिलेगा। इसके साथ ही प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के संकल्प को पूरा करने में मदद मिलेगी।