May 11, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

डीएम की अच्छी पहल, एसपी सहित अन्य अधिकारी गौशालाओं पर रखेगे नजर

बांदा डीवीएनए। जिलाधिकारीआनन्द कुमार सिंहगौशालाओं में समुचित व्यवस्थाओ के लिये अति चिंतित और सतर्क हो गये हैं।अब गौशालाओं का निरीक्षण पुलिस अधीक्षक और प्रभागीय वन अधिकारी भी निरीक्षण करेगें।डीएम नें सभी 209 गौशालाओं के सत्यापन के लिये अन्य अधिकारियों को नामित कर अपने कड़े संकेतों का इजहार कर दिया है।
जनपद में अन्ना व निरीह गोवंशों के संरक्षण और उन्हें सर्दी से बचाने के लिए शासन गंभीर है। जिलाधिकारी व मंडलायुक्त संबंधित अधिकारियों को सर्दी से बचाव व भरण-पोषण के इंतजाम कराने को लेकर कई बार निर्देशित कर चुके हैं, पर इसका कोई असर नहीं हुआ। अब डीएम आनंद कुमार ने संचालित सभी 209 गोशालाओं की सत्यता परखने के लिए अधिकारियों को अलग-अलग दायित्व सौंप दिए हैं। वह गोशालाओं में संरक्षित गोवंश और सर्दी आदि से निपटने को उपलब्ध सुविधाओं की पड़ताल करेंगे और मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को रिपोर्ट देंगे। डीएम खुद सत्यापन करेंगे। उन्होंने एसपी, डीएफओ सहित अधिशासी अभियंताओं को भी यह जिम्मेदारी सौंपी है। चेतावनी दी है कि यदि इसमें लापरवाही हुई तो गंभीरता से लिया जाएगा। संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
इन गौशालाओं में जिन बिदुओं पर होगी जांच होगी उनमेंगोवंश आश्रय स्थल में संरक्षित व रजिस्टर में दर्ज गोवंश, शेड की उपलब्धता,शीत लहर से बचाव के उपाय,स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता,बाउंड्री व तार फेंसिग की स्थिति,भूसा गोदाम की उपलब्धता,भूसा व पराली के भंडारित स्टाक की स्थिति,गोवंश संख्या के सापेक्ष उपलब्ध चरही व पानी की नांद,पशुओं की टैगिग व नर पशुओं के बधियाकरण की स्थिति,अभिलेखों का परीक्षण मुख्य हैं।
गौसालाओ का यह अधिकारी भी सत्यापन करेगें! इनमें डीपीआरओगोधनी, गरौती, वासिलपुर व महेदू,प्रभागीय वनाधिकारी पड़री, पिडारन, अनवान, सांड़ा, मर्का
डीएचओ-ममसी खुर्द, मवई, मुसीवां, लखनपुर, लाखीपुर, अपर मुख्यअधिकारी-अमलोखर, कुचौली, जोरावरपुर, कोर्रा बुजुर्ग, खेरा,कृषि अधिकारी जरोहरा, साथी, चौसड़, कैरी, फफूदी,जिला ग्रामोद्योग अधिकारी जौरपुर, बिछवाही
परियोजना निदेशक भदवारी, घनसौल, हरदौली, आलमपुर एक्सईएन केन नहर पचनेही, जारी,अरबई, तिदवारा,एक्सईएन लघु सिचाई-गुरेह, धौसड़, सिंहपुर,डीडीएम नाबार्ड-पैलानी व अमलोर,सीवीओ बबेरू, कौहारा, नगर पंचायत नरैनीका सत्यापन करेगें।
संवाद विनोद मिश्रा