April 23, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

शहीद पार्क में स्व कृष्णनंद राय की पुण्यतिथि पर उमड़े समर्थक, दी गयी श्रद्धांजलि

गाजीपुर (डीवीएनए)। जिले मे विधायक स्व कृष्णनंद राय सहित सात भाजपा कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या के बाद हर साल शहादत दिवस का आयोजन किया जाता है इस साल कोडिव-19 को देखते हुए सीमित तरीके से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए शहीद पार्क मुहम्मदाबाद में रविवार को मौन श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इससे पहले भांवरकोल थाना क्षेत्र के घटनास्थल बसनिया चट्टी पर स्थित शहीद स्तंभ पर स्व. विधायक की पत्नी विधायक अलका राय सहित अन्य लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

मुहम्मदाबाद तहसील मुख्यालय पर शहीद पार्क में आयोजित मौन श्रद्धांजलि कार्यक्रम में स्व. कृष्णानंद राय सहित सप्त शहीदों की तस्वीर लगाई गई थी। तस्वीर पर लोगों ने पुष्पांजलि कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

कार्यक्रम स्थल पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुहम्मदाबाद के अधीक्षक डा. आशीष राय ने कोविड कैम्प लगवाया था। इसमें श्रद्धांजलि के लिए आने वालों का हाथ सैनिटाइजर से धुलवाने के साथ ही जिनके पास मास्क नहीं था, उन्हें उपलब्ध कराया गया।

श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में प्रभारी मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल, सांसद विरेंद्र सिंह मस्त, विधायक सुशील सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष भानूप्रताप सिंह, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के पुत्र अभिनव सिन्हा, डीसीएफ के चेयरमैन विजयशंकर राय, कृष्णबिहारी राय, नरेंद्रनाथ सिंह, सुनील सिंह, महामंत्री ओमप्रकाश राय, प्रवीण सिंह, कृपाशंकर राय, राजेश राय बागी, स्व. कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय,

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष विजय शंकर राय, विरेन्द्र राय, प्रमोद राय, दिनेश वर्मा, आनंद राय मुन्ना, पियूष राय, नथुनी सिंह, श्यामराज तिवारी, अनिरुद्ध राय, सतीशचंद्र राय, शशांक राय, क्षेत्राधिकारी विनय गौतम, बीडीओ सुशील सिंह, कृष्णानंद राय, रामजी गिरी, तेजबहादुर यादव, ओमप्रकाश गिरी, योगेश सिंह, पत्रकार आनंदी त्रिपाठी आदि प्रमुख थे।

15 साल पूर्व हुआ था बसनिया मे भीषण नरसंहार

मालूम हो कि 29 नवंबर 2005 को भांवरकोल क्षेत्र के बसनिया चट्टी पर विधायक कृष्णनंद राय, सहित 6 अन्य मुहम्मदाबाद के पूर्व ब्लाक प्रमुख श्यामा शंकर राय, रमेश नारायण राय, अखिलेश राय, शेषनाथ पटेल, मुन्ना यादव व गनर निर्भय नारायण उपाध्याय की एके 47 राइफल से गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

हर वर्ष 29 नवंबर को कार्यक्रम आयोजित कर इन शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है। इस मामले मे बाहुबली विधायक मोख्तार अंसारी व पूर्व व मौजूदा सासंद अफजाल अंसारी पर साजिश रचने का आरोप था.

संवाद राकेश पाण्डेय