April 23, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

कोविड -19 टीकाकरण के लिए आशा व एएनएम को दी ट्रेनिंग

कासगंज। (डीवीएनए) कोविड -19 के टीकाकरण के लिए तैयारियां तेज कर दी गयी हैं । स्वास्थ्य विभाग ने द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों की सूची तैयार कर ली गई है। इसी कड़ी में बुधवार को जनपद में टीकाकरण के लिए विरला अस्पताल मे आशा व एएनएम को प्रशिक्षण दिया गया।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आकाश सिंह ने बताया स्वास्थ्य कर्मियों हेल्थ वर्कर को पहले चरण में कोविड-19 की वैक्सीन दी जाएगी,जिसमें एएनएम, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता , फार्मासिष्ट, वार्ड बॉय, स्टॉफ नर्स और प्राइवेट नर्सिंग होम के सभी कर्मचारियों को वैक्सीन लगायी जाएगी!|
दूसरे चरण मे फ़्रंट वर्कर पुलिस कर्मी और सफाई कर्मियों का वैक्सीन लगेगी और उसके पश्चात तीसरे चरण मे पचास साल से नीचे उन लोगों का टीकाकरण किया जाएगा जो गंभीर बीमारी वाले लोग है एवं पचास साल से ऊपर के व्यक्ति का टीकाकरण कराया जायेगा

कोरोना टीकाकरण की तैयारी के लिए स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यकर्ता जुटे हैं। यह आंकड़ा पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है |

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आकाश सिंह ने स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड-19 की टीकाकरण को लगाने की ट्रेनिंग दी गई । उन्होंने बताया कि प्रथम चरण के दौरान टीकाकरण को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है। शासन से प्रथम चरण में टीकाकरण के लिए कोल्ड चेन तैयार की जा रही है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रतिमा श्रीवास्तव ने बताया – की प्रथम चरण मे स्वास्थ्य कर्मियों , आशा व एएनएम आंगनवाड़ी स्टॉफ नर्स, वार्ड बॉय, एएनएम, और प्राइवेट नर्सिंग होम के स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया जायेगा! दूसरे चरण मे पुलिस कर्मी सफाई कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा ! तीसरे चरण मे जो पचास साल से नीचे गंभीर बीमारी से वाले लोग है एवं पचास साल से ऊपर के व्यक्ति का टीकाकरण किया जायेगा

टीकाकरण के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी की अध्यक्षता में कमेटी एक कमेटी बनाई गई है। इसमें चिकित्सक, ड्रग विभाग, विश्व स्वास्थ्य संगठन, यूनिसेफ, लायंस क्लब, रोटरी क्लब, आदि के सभी लोगों को शामिल किया गया है । यह कमेटी टीकाकरण के दुष्प्रभाव की स्थिति की देखभाल करेगी |

कार्यक्रम में यूनिसेफ के प्रतिनिधि ब्लॉक मोबलाइज़र मुहम्मद रिज़वान एवं फार्मासिष्ट नवीन कुमार व जनपद की आशाएं व एएनएम भी मौजूद रहे.

संवाद:- नूरुल इस्लाम