April 21, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

भारत की अर्थव्यवस्था खस्ताहाल, दुनिया में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार रिश्वतखोरी यहां है: अखिलेश यादव

लखनऊ (डीवीएनए)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि किसानों पर इतना अन्याय कभी नहीं हुआ। अपनी जायज मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर आंसू गैस छोड़ना, वाटर कैनन से पानी की बौछार करना और लाठियां बरसाना कहां की सभ्यता है? यह तो सरकार का आतंकी हमला है। भाजपा ने इन्हीं किसानों से वादा किया था कि उनकी आय दुगनी करेंगे। लागत का ड्योढ़ा मूल्य देंगे। इन वादों का क्या हुआ? भाजपा राज में धान की लूट हुई, किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं मिला। जेवर एयरपोर्ट में अधिग्रहीत जमीन को ऊसर बंजर बताकर किसानों को मुआवजा नहीं बंट रहा है। पंजाब, हरियाणा ही नहीं उत्तर प्रदेश के किसान भी भाजपा की कुनीतियों से आंदोलित और आक्रोशित है।
श्री यादव आज पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में पत्रकारों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसान की मदद करनी है तो सरकार उनको बाजार के भरोसे नहीं छोड़े। उससे भलाई नहीं होगी। किसान और व्यापार का पुराना रिश्ता है। भाजपा ने खेती और व्यापार दोनों को बर्बाद किया है। मिसकाल व्यवस्था से भाजपा दुनिया की बड़ी पार्टी बनने का दावा तो करती है पर वह मिसकाल में उस जगह का पता नहीं बताती जहां किसान धान पहुंचाए, उसको फसल की सही कीमत मिले। और नौजवान को जहां रोजगार हासिल हो सके। समाजवादी काले कानून के खिलाफ है। समाजवादी पार्टी किसानों की मांगों का समर्थन करती हैं।
श्री यादव ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था खस्ताहाल है। दुनिया में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार रिश्वतखोरी यहां है। हिरासत में मौतों के मामले में भी सबसे ऊपर हैं। निर्दोष लोगों पर झूठे केस लगाए जा रहे हैं। बाजार में शोषण है। नौजवान बर्बाद है। भाजपा बड़ा झूठ बोलती है। मुख्यमंत्री जी ने 10 हजार मेगावाट का सोलर एनर्जी प्लांट बनाने की घोषणा की है। लेकिन कन्नौज में समाजवादी सरकार में पूर्व राष्ट्रपति डाॅ0 एपीजे अब्दुल कलाम की उपस्थिति में जो सोलर एनर्जी प्लांट लगा उससे किसान का ट्यूबवेल, चक्की और गांवों की बिजली आपूर्ति हो रही थी, भाजपा राज ने उसे बंद करा दिया।
उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने अपने कार्यकाल में सबसे ज्यादा लैपटाॅप बांटे, गरीबों को पेंशन दी, मेट्रो चलाई वह बस उतनी ही दूरी में चल रही है। झांसी, गोरखपुर में मेट्रो चलाने की घोषणा की गई थी, वह आज तक नहीं चली। भाजपा सरकार की विकास में कोई रूचि नहीं है।
डिजिटल वार्ता ब्यूरो