August 5, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

CBI ने यौन शोषण के आरोपी जेई के ब्लड जांच की दी अर्जी

बांदा (डीवीएनए)। बच्चों के यौन उत्पीड़न के आरोपी निलंबित जेई रामभवन की न्यायिक हिरासत 4 जनवरी तक बढ़ा दी गई है। अधिवक्ता के निधन के चलते कार्य प्रभावित होने से पॉक्सो एक्ट की अदालत ने सुनवाई तिथि बढ़ा दी है। उधर, सीबीआई ने आरोपी जेई की ब्लड जांच के लिए अदालत में एक और अर्जी दी है। इस पर सुनवाई भी 4 जनवरी को होगी।
सीबीआई के तीन सदस्य सोमवार को पॉक्सो कोर्ट पहुंचे। पंचम एडीजे/पॉक्सो एक्ट न्यायाधीश मोहम्मद रिजवान अहमद के समक्ष प्रार्थना पत्र देकर बच्चों यौन उत्पीड़न के आरोपी जेई रामभवन के ब्लड सैंपल की जांच की याचना की, लेकिन अधिवक्ता के निधन से शोक घोषित होने पर अदालत में सुनवाई नहीं हो सकी। न्यायाधीश ने सुनवाई के लिए अगली तारीख 4 जनवरी तय की है।
एडीजीसी मनोज दीक्षित ने बताया कि सीबीआई की इस नई अर्जी सहित पूर्व में दिए गए मानसिक और अन्य शारीरिक जांच संबंधी प्रार्थना पत्रों पर भी सुनवाई अगली तारीख में होगी। सीबीआई के अधिवक्ता अशोक सिंह सुबह से अदालत में डटे रहे। सुनवाई की तिथि बढ़ने के बाद सीबीआई टीम चित्रकूट वापस लौट गई। उधर, कानूनविदों के मुताबिक आरोपी जेई के ब्लड सैंपल जांचों में पॉक्सो एक्ट की धारा के तहत डीएनए समेत कई बीमारियों से जुड़ीं जांचें शामिल हो सकती हैं।
सीबीआई टीम पांच वर्षीय बालक और उसके अभिभावक को भी अदालत साथ लाई थी। पूरे समय उन्हें एक लग्जरी वाहन में रखा गया। बालक और अभिभावकों को बाहर नहीं निकलने दिया। न ही किसी से कोई बातचीत करने दी गई। सुनवाई तिथि बढ़ने के बाद शाम 4 बजे सीबीआई टीम बच्चे को लेकर चित्रकूट लौट गई।
संवाद विनोद मिश्रा