September 19, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

इंडियन ओवरसीज बैंक लूट का खुलासा, बैंककर्मी ही निकला लुटेरा

आगरा(डीवीएनए)। इंडियन ओवरसीज बैंक लूट के मामले का खुलासा सोमवार को पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में पुलिस के आलाधिकारियों के द्वारा किया गया। जिसमें बैंक लूट 56,94,810 की घटना का सफल अनावरण करते हुए। कुल 32,20,000 की बरामदगी व 01 बैंक कर्मी सहित कुल 05 अभियुक्तों को क्राइम ब्रांच आगरा एवं थाना सदर पुलिस की संयुक्त टीम ने किया गिरफ्तार कर मीडिया के सामने पेश किया।
प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए एडीजी अजय आनन्द व एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि इस मामले में दो महिलाओं सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए बदमाशों में बैंक अस्थायी कर्मचारी पुनीत उर्फ पी.के. ,रंजीत,ठाकुर दास, रजनी शामिल हैं। जबकि उनकी चार साथी बंटी जाटव, नरेंद्र कुमार,तेज सिंह,सनी उर्फ सिद्धार्थ फरार चल रहे हैं। इनके पास स वारदात में प्रयुक्त चाकू और मोटरसाइकिल भी बरामद की गई है। 15 दिसम्बर को करीब 4:45 पर ग्वालियर हाई वे रोहता में स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक से 56 लाख, 94 हजार,810 रुपये की लूट की वारदात को अंजाम दिया गया था। जिसकी धड़पकड़ के लिए पुकिस की आठ टीमें काम कर रही थीं। बदमाशों की जानकारी देने वाले को 1 लाख का नकद पुरस्कार भी घोषित किया गया था। जांच की दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि पुनीत बैंक में लंबे समय से अस्थायी रूप से काम कर रहा है। जोकि की बैंक की सभी जानकारी रखता है। जिसका फायदा उठाकर पुनीत ने अपने दोस्त ठाकुरदास के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया। जिसको शक के दायरे में रखकर पुलिस टीम ने इसका खुलासा किया।
लूट का खुलासा करने वाली टीम को पचास हजार के नकद पुरस्कार के साथ सभी सदस्यों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गए।
संवाद दानिश उमरी