April 23, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

अंगीठी जलाकर सोए दो युवकों की दम घुटने से मौत

काशीपुर डीवीएनए। अंगीठी जलाकर सोए दो युवकों की मौत दम घुटने से हो गई है इससे उनके परिवार में कोहराम मचा हुआ है। शनिवार को दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

बता दें कि रूद्रपुर के जयनगर के चस्का मस्का ढाबे पर काम करने वाले संजीव, उसका भाई अनुपम पुत्र सुरेंद्र नाथ निवासी कोतवाली रोड जसपुर, आकाश पुत्र राजकुमार निवासी नत्थासिंह गुरूवार को अधिक ठंड होने के कारण ढाबे के एक कमरे में अंगीठी जलाकर सो गए। शुक्रवार सुबह दरवाजा तोड़कर संजीव और आकाश के शव निकाले गए। जबकि बेहोश अवस्था में अनुपम को एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उधर, संजीव और आकाश की मौत की खबर सुनकर दोनों के परिवार में कोहराम मच गया।

आकाश के पिता राजकुमार और संजीव के बहनोई नितिन कुमार रूद्रपुर को रवाना हो गए। बताते हैं कि मृत युवकों के परिवार की माली हालत मजबूत नहीं थी। वह स्थानीय ढाबे और विवाह शादियों में भी काम करते थे। अधिक कमाने की ललक और परिवार के पेट की भूख मिटाने को चार माह पहले ही रूद्रपुर ढाबे पर काम करने गए थे। दीवाली पर तीनों दोस्त जसपुर आये थे। शुक्रवार को उनकी मौत पर उनके मोहल्लों ने शोक जताकर उनके परिजनों को ढांढस बंधाया।

चंदोसी से ढाई साल पहले जसपुर आया था आकाश का परिवार
जसपुर। आकाश के पिता मूलत: चंदोसी के एक गांव के निवासी बताये गए है। जबकि उसकी मॉ केला देवी बहजौई की रहने वाली है। दोनों ही मेहनत मजदूरी कर अपना पेट पालते है। दोनों के दो बेटे आकाश (20) और मनीष (18) है। मनीष भी पहाड़ों पर कही काम करता है। परिवार की माली हालत सुधारने को वह ढाई साल पहले जसपुर के मोहल्ला नत्थासिंह में आकर किराये पर रहने लगे थे। इसी मोहल्ले में केला देवी की बहन वीरबाला भी रहती है। केलादेवी के मौसेरे भाई हरिओम ने बताया कि दीपावली पर आकाश घर आया था। आकाश के दोस्त मनु ने बताया कि आकाश का व्यवहार अच्छा था।

जसपुर में ही काम करने को कह रहे थे मिठाई विक्रेता
जसपुर। कोतवाली रोड स्थित गुरूनानक स्वीट हाऊस के स्वामी राजू बताते है कि उनकी दुकान के पास ही संजीव और अनुपम का घर है। एक साल पहले दोनों उसकी दुकान पर ही काम करते थे। राजू बताते है कि दीपावली पर जब वह घर आये थे। तब उन्होंने संजीव,अनुपम और आकाश से उनकी दुकान पर काम करने को कहा था। लेकिन तीनों ने ही मना कर दिया है। राजू ने बताया कि संजीव,अनुपम की दो बहनें है। उनके पिता नहीं है। मॉ बेटियों के पास रहती है।

जनप्रतिनिधियों ने जताया शोक
जसपुर। संजीव और आकाश की मौत पर विधायक आदेश चौहान, पूर्व विधायक डा. शैलेंद्र मोहन सिंघल, डा. एमपी सिंह, पालिकाध्यक्ष मुमताज बेगम, हाजी जाहिद, हाजी राशिद, सुल्तान भारती,डा.यूनूस चौधरी, अजय अग्रवाल, विक्की अरोरा, निकेश अग्रवाल, प्रवचन,राजू अरोरा,जितेंद्र अरोरा समेत मिठाई विक्रेताओं ने शोक जताया है।