April 20, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

भाजपा की गलत नीतियों के चलते जनता को परेशानियों से जूझना पड़ रहा: अखिलेश

लखनऊ डीवीएनए। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सत्तामद में चूर है। उसकी गलत नीतियों के चलते जनता को परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। लोगों की जिंदगी में चैन नहीं। कानून व्यवस्था तो चौपट है ही लोग मंहगाई, मिलावट और भ्रष्टाचार से भी तंग हो चले हैं। मुख्यमंत्री जी को लगता है कि थोड़े ही दिन बचे है तो ज्यादा माथापच्ची क्यों करें? जहां जैसा चल रहा है चलने देना है।
भाजपा राज में 13 दिन में दूसरी बार गैस सिलेण्डर के दाम बढ़ा दिए गए है। सरकार की कमर तोड़ मंहगाई से लोगों का जीना मुश्किल हो गया हैं। अगर यह सरकार कुछ सस्ता नहीं कर सकती तो कम से कम और दाम तो न बढ़ाए। सरकार को जनहित में गैस के बढ़े दाम वापस लेने चाहिए।
सत्ताधारियों ने उत्तर प्रदेश में अवैध खनन कर खुल लूट मचा रखी है। पुलिस प्रशासन और सरकार तीनांे ही अपना हिस्सा लेकर चुप्पी साधे बैठी है। कानपुर के बिधने में सत्ताधारी नेता का रिश्तेदार ग्राम समाज की जमीन पर अवैध खनन करा रहा है। एक हिन्दू वाहिनी के नेता हाथरस में नकली मसाला बनाने के लिए गोबर भूसे एवं हानिकारण तेल मिलावट करते धरे गए हैं। आगरा में देशी घी की एक नकली देशी घी की फैक्ट्री में जानवरों की चर्बी, हड्डियां, पैर और खुर मिले हैं। भ्रष्टाचार पर जीरों टाॅलरेंस की रट लगाने वाले मुख्यमंत्री जी ने अभी तक लोगों की जिंदगी में मिलावट का जहर घोलने वालों पर एनएसए क्यों नहीं लगाया है?
सच तो यह है कि प्रदेश में अपराध और अपराधी सत्ता संरक्षित है। यहां जंगलराज है। विपक्षी नेताओं का खुले आम खून बहाया जा रहा है। सोनभद्र में समाजवादी पार्टी के नेता श्री रामभुवन यादव की हत्या की गई है। बकेवर में तो भाजपा के ही एक पूर्व मंत्री श्री अमरजीत सिंह को जब अपने क्षेत्र में पुलिस की वसूली की खबरें मिलीं तो वही शिकायत करने पुलिस अधिकारियों के पास जाने को मजबूर हुए।
प्रदेश में लूट, डकैती की वारदातें चरम पर। आगरा में दिनदहाड़े बैंक कर्मियों को बंधक बनाकर बदमाशों ने 57 लाख रूपए की लूट की। आए दिन ऐसी वारदातें होती है पर भाजपा सरकार और पुलिस आंखे मूंदे बैठी रहती है।
सच तो यह है कि समाज में नफरत का जह़र घोलने का काम हो या मिलावट का, कोई भी अवैध काम हो हर जगह भाजपाई नेता ही गुनहगार मिलते है। सीमा पर जवान और दिल्ली में किसान शहादत दे रहा है लेकिन मुख्यमंत्री जी अन्नदाता की ही बदनामी में रूचि ले रहे हैं। भाजपा सरकार सचसच पूछों तो जुल्म में अंग्रेजों से भी आगे निकल गई है।