September 20, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

आशा ने गर्भवती महिला का निजी क्लीनिक में किया गर्भपात, बिगड़ी हालत

कासगंज (डीवीएनए)। कस्बा अमांपुर में झोला छाप चिकित्सकों की लापरवाही आए दिन मरीजों के लिए घातक साबित हो रही है। इसके बावजूद भी प्रशासन लापरवाह चिकित्सकों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। निजी चिकित्सक और आशा कार्यकर्त्री की लापरवाही का ऐसा ही मामला एक बार फिर सामने आया है।
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात आशा कार्यकत्री राजकुमारी ने अपने पति की मिली भगत से अपने निजी क्लीनिक पर एक महिला का गर्भपात कर दिया जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। इलाज के लिए महिला को अलीगढ़ मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज चल रहा है। पीड़ित महिला के पति अजीम पुत्र खचेर शांह निवासी लोहिया नगर ददवारा ने डाक्टर हरिसिंह और आशा राजकुमारी पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए सीएमओ प्रतिमा श्रीवास्तव को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है।
अजीम ने बताया कि वह अपनी 3 माह की गर्भवती पत्नी समीना को पेट में दर्द होने पर अमांपुर कस्बे के सहावर रोड पर स्थित डॉ हरिसिंह के क्लीनिक पर दिखाने के लिए ले गया। जहां डॉ हरिसिंह ने अपनी पत्नी आशा राजकुमारी को दिखाने के लिए नर्सिग होम के अन्दर भेज दिया। राजकुमारी ने समीना की जांच करने के लिए कमरे में ले जाकर उसका गर्भपात कर दिया। जिससे उसकी पत्नी की आंते कट गई और गर्भाशय क्षतिग्रस्त हो गया। महिला की हालत बिगड़ने पर परिजन आनन- फानन उसे कासगंज जिला अस्पताल ले गये। जहां पर हालत नाजुक होने पर अलीगढ़ रेफर कर दिया। महिला आईसीयू में भर्ती है और हालत गम्भीर बना हुयी है। पति ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से चिकित्सक और आशा कार्यकर्ता के विरूद्ध कार्यवाही करने की गुहार लगाई है।