September 29, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य के लिए संगिनियों की हुई ट्रेनिंग

कासगंज (डीवीएनए)। कासगंज जनपद में मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए आवश्यक कदम उठाते हुए आशा संगिनियों को तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में 3 ब्लॉकों की 16 आशा संगिनियों ने प्रतिभाग किया।
प्रशिक्षण के दौरान आशा संगिनियों को कोविड -19 के तहत आवश्यक दिशा निर्देशन का पालन करते हुए गर्भवतियों मे उच्च जोखिम (हाई रिस्क प्रेगनेंसी) वाली गर्भवती महिलाओँ की पहचान करना, उनकी लाइन लिस्टिंग करना इत्यादि के बारे में बताया गया। इस विषय के तहत उनके अनेकों प्रश्न एवं उनके समाधान के संबंध में विस्तृत तरीके से समझाया गया।
कार्यक्रम में जिला सामुदायिक प्रशिक्षण कार्यक्रम के जिला सामुदायिक विशेषज्ञ मोहित ने अनेकों प्रश्न एवं उनके उत्तर के द्वारा आशा संगिनियों को जोखिम गर्भवती की जटिलताएं, खतरे, लक्षण, पहचान, रेफर व चिन्हाकन की जानकारी दी। इसके साथ ही गर्भवती महिलाओं एवं शिशु की नियमित देखभाल व इस दौरान संगनी व आशाओ की भूमिका का विस्तृत बखान किया गया।
कार्यक्रम के समापन के अंतिम दिन मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रतिमा श्रीवास्तव ने आशा संगिनियों को मुख्य बिन्दुओं के बारे में समझाया। उन्होंने कहा-कुल गर्भवती महिलाओं में दस प्रतिशत महिलाओं को (एचआरपी )की संभावना होती है जिसके लिए आशाओं द्वारा सभी गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच कराई जानी आवश्यक हैद्य
उन्होंने समझाया कि आशाएं ऐसी एचआरपी महिलाओं के घर भ्रमण व कोविड -19 के आवश्यक दिशा निर्देशों के बारे मे समझाते हुए उचित देखभाल के लिए हॉस्पिटल रेफर करें।  उनकी जाँच करवाएं, गर्भवती के बारे में पता चलने से लेकर 42 दिन तक गृहभ्रमण जरूर करें।