October 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

इमाम हुसैन (अ.स.) की शहादत पूरे दुनिया में बेमिसाल है: सैय्यद इरशाद अहमद

गोरखपुर-DVNA। इमाम हुसैन (अ.स.) की शहादत के बाद चेहल्लुम के मौके पर इमाम बाड़ा मुतवल्लियान कमेटी की जानिब से एक सेमिनार का आयोजन स्थान जाफरा बाजार नया कटरा परिसर पर आयोजित किया गया जिस का विषय था हुसैन सबके लिए है, कार्यक्रम की सदारत कमेटी के जिला अध्यक्ष सैयद इरशाद अहमद ने किया कार्यक्रम की शुरुआत हाफिज तामीर अहमद अजीजी ने की कलाम ए पाक की तिलावत से हुई।
सेमिनार को संबोधित करते हुए कमेटी के जिला अध्यक्ष सैयद इरशाद अहमद ने कहा कि कर्बला की शान हजरत इमाम हुसैन की शहादत मोहर्रम के बाद चालीसवां बड़े अदबो हेतराम के साथ मनाएं जाने का दिन है गमों की दास्तान कर्बला का जिक्रहै इसलिए कहते हैं कि इस्लाम जिंदा होता है हर कर्बला के बाद आज मैं बताना चाहता हूं हजरत इमाम हुसैन की शहादत पूरे दुनिया में बेमिसाल है उन्हें किसी धर्म समुदाय की सीमा में बांध कर नहीं देखा जा सकता सारी दुनिया के लिए बेमिसाल कुर्बानी देकर ता कयामत तक लोगों के दिलों में जिंदा रहने वाले हुसैन को आज चेहल्लुम के मौके पर उन्हें नम आंखों से खेराजे अकीदत पेश करते हैं आज दुनिया कि हर कोम पुकार रही है हमारे है हुसैन।
सेमिनार को संबोधित करते हुए मौलाना कारी व हाफिज जमील अहमद मिस्बाही ने कहां हुसैन के चाहने वालों को आज देखो मुसलमान की साथ हिंदू भाई भी मोहर्रम में इमाम चौक पर दुआ व फातिहा में बड़ी तादाद में पहुंच कर सभी शरबत व छोटी ताजिया चढ़ाकर बड़े अदब के साथ खेराजे अकीदत पेश करते हैं इसलिए हुसैन सबके हैं सभी को दुआओं से नवाजते हैं हुसैन ने मोहब्बत भाईचारे का हमेशा पैगाम दिया हम उन्हें इंसानियत खातिर अपनी को और अपने परिवार को हमेशा हमेशा के लिए कुर्बान कर दिया इस शहादत को दुनिया हमेशा याद करती रहेगी मौलाना तामीर अहमद अजीजी इमाम अंबेडकर नगर ने कहा मैं मुबारकबाद देता हूं, इमामबाड़ा मुतवल्लियान‌ कमेटी के लोगों का जिन्होंने इस सेमिनार में हमको बुलाया कमेटी के लोगों ‌ने मोहर्रम से लेकर आज चेहल्लुम तक जो रचनात्मक काम करके कर्बला की 72 साथियों की याद में जो खेराज अकीदत पेश किया वह काबिले तारीफ है।
आज चेहल्लुम के मौके पर मैं बताना चाहता हूं कि आंसुओं के ना रुकने वाली दास्तान कर्बला का वाकया हजरत इमाम हुसैन ने जो हसीन शहादत पेश करके दुनिया को बता दिया है इस्लाम जिंदा होता है हर कर्बला के बाद अंत में सभी लोगों ने कोरोना वायरस जैसी खतरनाक बीमारी से निजात पाने के लिए अल्लाह पाक से दुआ भी किया गया कि इस बीमारी से हमारे पूरे मुल्क व दुनिया में सभी लोगों को निजात मिल सके।
इस अवसर पर हाजी अरशद जमाल सामानी, जिला अध्यक्ष ऑल इंडिया ह्यूमन राइट्स रजी अहमद खां, शकील शाही, इंजीनियर मिन्नतुल्लाह, अनीस अहमद एडवोकेट, शहाब हुसैन, ह्यूमन राइट्स अरशद अहमद खान, गुलाम अली खां आफताब आलम गेहूं सागर,कैश अख्तर, शायर नसीम सलेमपुरी, मिनहाज अहमद सिद्दीकी, आफताब अहमद, जमील अहमद अंसारी, मोहम्मद आकिब, इमरान अहमद, वहीद खान, मंजर लकी, शमीम अहमद, मुमताज अंसारी, हाजी जलालुद्दीन कादरि, ताजुद्दीन अंसारी, हामिद अंसारी, मोहम्मद वसीम आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे।