September 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

मनचलों ने 15 साल की लड़की को तीन मंज़िला छत से फेंका

रामपुर (डीवीएनए)। आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष फ़ैसल खान लाला पार्टी के पदाधिकारियों के साथ ज़िला अधिकारी के कार्यालय पहुंचे और उन्होंने ज़िला अधिकारी आंजनये कुमार सिंह से मुलाक़ात की।

फ़ैसल लाला ने आसरा कालौनी में रहने वाले एक पीड़ित परिवार को ज़िलाधिकारी से मिलवाया पीड़ित परिवार ने ज़िला अधिकारी आंजनये कुमार सिंह को अपना दर्द बयाँ करते हुए बताया कि पुलिस की लापरवाही के कारण पड़ोस में रहने वाले कुछ मनचलों ने उनकी 15 साल की नाबालिग बच्ची को तीन मंज़िला छत से नीचे गिरा दिया जिसके कारण आज उनकी बच्ची ज़िंदगी और मौत के बीच जूझ रही है।

पीड़ित परिवार ने एक पत्र ज़िला अधिकारी को सौंपकर इंसाफ की गुहार लगाई है। पीड़ित परिवार का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाले तालिब और उसके दो साथी उनकी बच्ची पर बुरी नियत रखते थे बीती 7 दिसंबर को तालिब ने बच्ची को अकेला पाकर उसको अपने घर में घसीट लिया और दरवाज़ा बंद करके बलात्कार का प्रयास किया शोर-शराबा होने पर मनचला वहाँ से भाग गया पीड़िता के परिवार ने 112 नंबर पर फोन करके मामले की सूचना पुलिस को दी तो पुलिस ने आकर मामला रफा-दफ़ा करा दिया इसके अगले दिन आरोपी तालिब और उसके दो साथियों ने उनकी बच्ची को उस वक्त तीन मंज़िल छत से नीचे धक्का दे दिया।

जिस वक्त वह कपड़े सुखाने छत पर गई थी, आरोपी ने कहा कि तूने कल पुलिस बुलाई थी आज तू मुझसे पनहा मांगेगी इसके बाद आरोपी ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर ऐसा ज़ोरदार धक्का दिया कि बच्ची तीन मंज़िल छत से नीचे फर्श पर आ गिरी बच्ची के जिस्म की अधिकतर हड्डियां टूट चुकी हैं आनन फ़ानन में बच्ची को ज़िला अस्पताल लेकर गए तो दो घण्टे तक डॉक्टर ने यह कहकर इलाज शुरू नही किया की यह मामला पुलिस का है।

दो घण्टे बाद पुलिस के आने पर सरकारी अस्पताल ने बच्ची को रेफर कर दिया अब बच्ची शहर के एक निजी मैट्रो अस्पताल में भर्ती है। लेकिन परिवार के पास इलाज के पैसे नहीं हैं ऐसे में फ़ैसल लाला ने ज़िला अधिकारी से इंसाफ मांगते हुए कहा कि पुलिस ने मामले को हल्के में लिया इसलिए आज बच्ची मौत के मुँह में जा पड़ी है और अब भी पुलिस ने मामले को बहुत हल्का करके दर्ज किया है।

इसलिए मुकदमे में जानलेवा हमले की धारा 307 बढ़ाने के साथ बच्ची को राज्य सरकार की ओर से इलाज की सुविधा दिलाई जाए साथी ही आरोपियों का मकान का आवंटन निरस्त किया जाए।

ज़िला अधिकारी आंजनये कुमार सिंह ने पीड़ित परिवार को पूरी मदद का आश्वासन दिया है।

इस मौके पर आप प्रदेश सचिव नरेश गुप्ता, महिला ज़िला अध्यक्ष नरगिस खान, अलीम खान, सोनू बाल्मीकि, शमीना बी, जमील आदि लोग मौजूद रहे।
डिजिटल वार्ता ब्यूरो