October 27, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

पैसे की लालच में पति ने अपनी ही पत्नी का भाई बनकर उसकी शादी करा दी

इंदौर-डीवीएनए। कोटा के कुंहाड़ी इलाके में पैसे के लालच में पति ने अपनी ही पत्नी को बहन बना लिया। उसकी शादी दूसरे युवक से करा दी और 1.80 लाख रुपए हड़प लिए। लोग रिश्तों को कलंकित करने वाली धोखाधड़ी की इस अनूठी वारदात को सुनकर आश्चर्यचकित रह गए। इस मामले का भेद खुलते ही पुलिस ने ठग दंपति और दलाल को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पति ने बकायदा अपनी पत्नी को बहन बनाकर कोर्ट में ले जाकर गवाही दी। वह शादी क ेनाम पर ठगी की वारदात को अंजाम देकर वह फरार होने की फिराक में थे, लेकिन दूल्हे की ािकायत पर अलर्ट हुई पुलिस ने वारदात का पर्दाफाश कर दुल्हन बनी महिला व भाई बने उसके पति सहित तीन आरोपियों कोक गिरफ्तार कर लिया।
जानकारी के मुताबिक कोटा के काली बस्ती निवासी पीडित ऑटो चालक रवि नागर की शादी नहीं हो रही थी। इसको लेकर वह परेशान था। पीडित रवि ने पिछले दिनों अपने पड़ोसी के माध्यम से अपनी शादी करवाने के लिए देवराज से मुलाकात की। जब देवराज सुमन को पता लगा कि रवि नागर की शादी नहीं हो रही है, तो उसने रवि की इंदौर में शादी करवाने की बात कही। रवि ने शादी के लिए पैसों का इंतजाम करने के लिए अपने गांव की जमीन दो लाख रुपए में गिरवी रख दी। बिचैलिया देवराज मुलाबात के कुछ दिन बाद ही एक रिश्ता लाया। उसने इंदोर की कोमल नाम की लड़की से शादी करवाने की बात कही। 20 जून को दोनों की मुलाकात हुई, जिसमें देवराज ने लड़की की कहीं भी शादी नहीं होने की जानकारी दी। उसी दिन रवि ने एक लाख 80 हजार रुपए देवराज को दिए। देवराज ने 21 जून को रवि को शादी के लिए कोर्ट में बुलावाया। कोर्ट में पहले से ही कोमल व उसके साथ आए लोग खड़े थे। देवराज ने दोनों को कोर्ट मैरिज करवा दी। गवाह के तौर पर कोमल के पति सोनू को उसका भाई बताकर पेश किया गया। इसके बाद रवि और कोमल घर पहुंचे और उन्होंने सात फेरे भी लिए। 22 जून को कोमल ने रवि से घूमने जाने के लिए कहा, लेकिन रवि ने मना कर दिया। कोमल द्वारा घूमने ले जाने की जिद करने पर रवि को उसकी हरकतें संदिग्ध लगीं और उसने अपनी बहन से बात की। बहन ने रवि को अपने घर बुलाया। 23 जून को कोमल को लेकर अपनी दीदी के घर कुन्हाड़ी गया। रवि की बहन ने पूछताछ की तो कोमल ने सारी बात बता दी, कोमल ने बताया कि उसकी शादी हो चुकी है। उसके दो बच्चे भी हैं। अभी तीन माह से गर्भवती होने की बात कही। इस पर रवि और उसकी बहन घबरा गए और उसे तुरंत कुन्हाड़ी थाने में ले जाकर इसकी जानकारी दी। रवि नागर की रिपोर्ट पर पुलिस ने 22 वर्षीय कोमल व उसके भाई बने पति 24 वर्षीय सोनू निवसी रुस्तम का बगीचा थाना एमआईजी कॉलोनी इंदौर व दलाल सुभाष नागर निवासी देवराज को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी दंपति व बिचैलियों से फिलहाल पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस को शंका है कि आरोपियों ने कई लोगों के साथ भी इसी तरह ठगी की वारदातों को अंजाम दिया होगा।