October 27, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

जीवन का वरदान है योग: उत्कर्षा मल्ल

महराजगंज-डीवीएनए । योग से स्वस्थ रहने के लिए लोगो को शरीर को रोग रहित बनाया जा सकता है, पुराने समय से ही लोग योग व कसरत की महत्ता समझते थे, उनकी दिनचर्या संयमित थी जिससे लोग रोगरहित रहते थे और लंबे समय तक जीवित रहते थे ।
यह बातें उत्कर्षा मल्ल ने कही, उन्होंने कहा नियमित योग व प्रणायाम से बड़ी से बड़ी बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है । सभी को योग के प्रति जागरूक होना चाहिए, जिससे स्वस्थ समाज का निर्माण किया जा सके ।
बताते चले सिसवा नगर नगर पालिका निवासी नागेन्द्र मल्ल की पुत्री उत्कर्षा मल्ल पिछले कुछ सालों से योग के प्रति समाज के लोगो जागरूक करने का कार्य कर रही है।
कोरोना काल में स्वस्थ रहने के लिए उत्कर्षा मल्ल लोगों को ऑनलाइन माध्यम से जागरूक करती चली आ रही हैं।
उन्होंने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि यौगिक सूक्ष्म व्यायाम, पवहम, मुक्तासन, कपालभाती के नियमित अभ्यास से उनकी दवाओं पर निर्भरता अब पूरी तरह खत्म हो गई है।
उन्होंने कहा कि अनियमित दिनचर्या व प्रदूषण के दौर में योग लोगों के जीवन में अहम हिस्सा बनता जा रहा है, कोरोना महामारी फैलने के बाद योग व प्राणायाम की महत्ता भी लोगों को खूब समझ में आई है, लोगों को असाध्य बीमारी से भी इससे लाभ मिल रहा है।
उत्कर्षा मल्ल ने योग को जीवन का वरदान भी कहा।