October 27, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

शादी का झांसा देकर किया था दुष्कर्म, गर्भवती होने पर खिलाई गर्भपात की दवा, मामला दर्ज

अयोध्या-डीवीएनए। खंडासा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 15 वर्षीय दलित किशोरी के साथ शादी का झांसा देकर डेढ़ वर्ष तक दुष्कर्म किए जाने के मामले में एसएससी से शिकायत के बाद अंततरू खंडासा पुलिस ने चार आरोपियों के विरुद्ध दुराचार गर्भपात सहित दलित उत्पीडन एक्ट की गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है हालांकि पुलिस अभी किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी हैं।
बताते चलें कि खंडासा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी एक व्यक्ति द्वारा पुलिस को दी गई तहरीर में आरोप लगाया गया है कि उसकी 15 वर्षीय बेटी अपनी बहन और मां के साथ खेत पर काम करने जाती थी। मां के बीमार होने पर वह अकेले ही काम पर जाने लगी जहां गांव के ही एक व्यक्ति ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया और यह सिलसिला लगभग डेढ़ वर्षो तक चलता रहा। बालिका के गर्भवती होने पर जब किशोरी ने आरोपी पर शादी का दबाव बनाया तो उसने पहले गर्भपात कराने की शर्त रख दी और उसे दवा खिला दी गई। जिसके बाद उसका गर्भपात तो नहीं हुआ लेकिन उसकी तबीयत खराब हो गई। जब परिजनों को इसकी जानकारी हुई तो परिजन किशोरी को लेकर आरोपी के घर पहुंच गए। शादी का दबाव बनाने लगे। जातीय भिन्नता होने के कारण आरोपी पक्ष ने शादी से इनकार करते हुए जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए पीडिता और उसके पिता को जान से मारने की धमकी दी अपने दरवाजे से भगा दिया।
आरोप है कि मामले में स्थानीय थाना खंडासा में शिकायत की गई और चिकित्सीय परीक्षण कराने के लिए कहा गया। लेकिन पुलिस से टरकती रही। थक हार कर पीडिता के साथ पीडित परिवार ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अयोध्या शैलेश पांडे से मिलकर पूरे मामले में कार्रवाई की गुहार की। मामला एसएसपी के संज्ञान में आने केे बाद खंडासा पुलिस नींद से जागी। प्रभारी निरीक्षक नीरज सिंह ने मामले में चार आरोपियों सर्वेश कुमार साहू, जुग्गी लाल, दुर्गेश कुमार, परिवेश कुमार निवासी बकचुना केे विरुद्ध धारा 313 376 504 506 आईपीसी 3(2)5 एससी एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।