October 27, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

युवक का कटा शव मिलने का मामला, पुलिस के लिए 22 दिनों से बनी अनबूझ पहेली

बांदा-डीवीएनए । युवक की नृशंस हत्या के मामले में पुलिसके हाथ सुराग नहीं लग पा रहें हैं और वह अंधेरे में ही असहाय सी तीर चला रहीं है । शव मिलने के 22 दिन बाद भी पुलिस के हाथ घटना से संबंधित कोई सुराग नहीं लगा है। पुलिस के पास मृतक के कपड़े व शरीर के रंग के अलावा पहचान कराने के लिए और फिल हाल कुछ नहीं है, जिससे मामले की गुत्थी अभी सुलझनें के बजाय उलझी ही हुई है।
शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम मवई जंगल में स्थित कुएं में चार जून को चारवाहों को युवक का शव पड़ा मिला था। पुलिस नें शव बाहर निकलवाया तो उसका गर्दन सिर गायब था। धड़ के नीचे कोई कपड़ा भी नहीं था। युवक के ऊपर शरीर में लाल रंग की शर्ट व काली-सफेद टीशर्ट मिली थी। इसी को आधार बनाकर पुलिस शव की पहचान कराने में लगी है। जिससे अभी तक सफलता नहीं मिली । पुलिस की कई टीमें अभी तक प्रयागराज, हमीरपुर, महोबा, फतेहपुर व एमपी के छतरपुर, पन्ना आदि जिलों से होकर खाली हाथ लौट चुकी है। बांदा में भी मृतक की पहचान करने वाला कोई सामने नहीं आया। पुलिस कुएं का पूरा पानी खाली कराकर सिर की तलाश कर चुकी है। आसपास की जमीन को भी खुदवाकर देखा गया है। लेकिन युवक का सिर कटा शव मिलना अनबूझ पहेली बना है। पहचान न होने से पुलिस अभी अंधेरे में हाथ-पैर मार रही है। हालांकि घटना को लेकर क्षेत्र में जहां सनसनी है,वहीं हत्यारों का अभी तक न पकड़ा जाना भी पुलिस की बड़ी नाकामी साबित हो रही है।
एसपी अभिनंदन का कहना है की घटना उनके यहां तैनाती के पूर्व की है। हत्या का पर्दाफाश करने के निर्देश दिए हैं। जल्द ही केश का खुलासा और गिरफ्तारी होगी।
संवाद विनोद मिश्रा