October 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

जब कुछ अच्छा लिखा जाता है, तो पात्रों का चित्रण संतुलित : शाहना गोस्वामी

अभिनेत्री शाहाना गोस्वामी का मानना है कि वेब शो ने लेखन की बेहतर गुणवत्ता की शुरूआत की है, जो बदले में उनके जैसे एक्टर्स के लिए अपनी बहुमुखी प्रतिभा साबित करने की गुंजाइश पैदा करता है।

अपने नवीनतम शो द लास्ट ऑवर में, शाहाना एक पुलिस अधिकारी की भूमिका में है, जो एक अन्य पुरुष समकक्ष के साथ, एक हत्या के रहस्य को उजागर करने के लिए निकलती है। सवाल है कि क्या उसने महसूस किया कि कहानी में वह पुरुष प्रधान दुनिया में एक मजबूत महिला के रोल में है?
शहाना ने कहा मुझे लगता है कि जब कुछ अच्छी तरह से लिखा जाता है, तो उसमें प्रत्येक चरित्र के चित्रण में एक प्राकृतिक संतुलन होता है। जब मैं संतुलन कह रही हूं, तो इसका मतलब है कि हमें केवल एक चरित्र को हाइलाइट करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वह एक पुरुष या महिला चरित्र है । उसमें प्रत्येक के लिए पर्याप्त जगह है। जब द लास्ट ऑवर में मेरे चरित्र की बात आती है, जहां मैं एक जांचकर्ता पुलिस अधिकारी की भूमिका निभाती हूं, तो यह कहानी में मेरा रोल है इसलिए, नहीं, मुझे ऐसा नहीं लगा कि मैं पुरुषों की दुनिया की सबसे मजबूत महिलाओं में से एक हूं।
2006 में अपने फिल्मी करियर की शुरूआत करते हुए, शाहना ने ज्यादातर फिराक, मिर्च, मिडनाइट्स चिल्ड्रन, तू है मेरा संडे और गली गुलियान जैसी फिल्मों से अपनी पहचान बनाई है, और मुख्यधारा के बॉलीवुड मनोरंजन में भी अभिनय किया है। जैसे हनीमून ट्रेवल्स प्राइवेट लिमिटेड, रॉक ऑन और ब्रेक के बाद। अपना नई सीरीज द लास्ट आवर को लेकर शाहना ने कहा लोग इसे आराम से छुट्टी में देखेंगे। एक शो 15 दिनों या रिलीज के एक महीने के बाद देखा जा सकता है और हमारे काम की प्रतिक्रिया पहले सप्ताहांत के भीतर नहीं बल्कि वर्ड ऑफ माउथ के आधार पर आना शुरू होती है। मुझे लगता है कि यही कारण है कि हमारे लिए प्रतिभा का पता लगाने और जश्न मनाने के लिए यह नया स्थान है। द लास्ट आवर में संजय कपूर भी है। सीरीज एमेजॉन प्राइम पर स्ट्रीम हो रहा है।