August 3, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

102 वर्षीय मिट्टू बाई ने लगवाया कोरोना का टीका

जबलपुर (डीवीएनए)। कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिये जन-जागरूकता बढ़ती जा रही है। देवास जिले के विकासखण्ड बागली के ग्राम अनखेली की 102 वर्ष की मिट्टू बाई ने कोरोना से सुरक्षा के लिये टीका लगवाकर अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है। उन्होंने कहा कि बिना किसी भय के कोरोना का टीका लगवायें। यही कोरोना से बचाव का उपाय है।
ग्राम अनखेली में ग्रामीणों में उत्साह का परिणाम है कि वहाँ शत-प्रतिशत टीकाकरण हुआ है। ग्राम में 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी पात्र व्यक्तियों को कोरोना का टीका लग गया है। देवास जिले की कन्नौद तहसील की ग्राम पंचायत कोथमीर, तहसील खातेगाँव की ग्राम पंचायत खारदा ने भी शत-प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल किया है।
जबलपुर की ग्राम पंचायत कालाडूमर में सौ प्रतिशत टीकाकरणरूकोरोना वैक्सीनेशन अभियान के तहत जबलपुर जिले के पनावर विकासखण्ड की ग्राम पंचायत कालाडूमर सौ फीसदी टीकाकरण वाली जिले की दूसरी ग्राम पंचायत बन गयी है। जागरूकता और सजगता की मिसाल बनी ग्राम पंचायत के ग्रामीणों के मध्य पनागर विधानसभा क्षेत्र के विधायक इंदु तिवारी पहुँचे और टीकाकरण में सहयोग कर रहे नागरिकों और शासकीय अमले के प्रति उनके सक्रिय प्रयासों के लिये आभार व्यक्त किया।
विधायक तिवारी ने कहा कि कालाडूमर ग्राम पंचायत को भी विधायक निधि से प्रोत्साहन स्वरूप पाँच लाख रुपये की राशि शीघ्र प्रदाय की जायेगी। सभी निवासियों को वैक्सीनेशन होने का प्रमाण-पत्र दिया गया, शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिये ग्राम के प्रभावशाली नागरिकों और शासकीय कर्मचारियों ने वातावरण का निर्माण किया था।
ग्रामीणों को बताया गया कि कोरोना से बचाव के लिये कोरोना अनुकूल व्यवहार और टीकाकरण ही एकमात्र सुरक्षा चक्र है, वैक्सीनेशन लगवाने से बीमार हो जायेंगे, इस भ्रम को दूर किया गयारूनीमच जिले में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा ग्राम रावणरूंडी में टीकाकरण सह विधिक जागरूकता शिविर में ग्रामीणों को टीकाकरण के लिये प्रेरित किया गया। वैक्सीन को लेकर कुछ लोगों के इस भ्रम को दूर किया गया कि कोरोना की वैक्सीन लगवाने से बीमार हो जाते हैं। उन्हें बताया गया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये वैक्सीन एक सशक्त सुरक्षा चक्र है। इसलिये टीका जरूर लगवायें। प्रेरित होकर शिविर में 260 ग्रामीणों ने कोरोना का टीका लगवाया।