October 27, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

24 जून को होगी भाजपा की नई कार्यसमिति की पहली बैठक-शर्मा

भोपाल (डीवीएनए)। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक 24 जून को आयोजित की जाएगी। बैठक के दौरान प्रदेश कार्यालय भोपाल में कोरोना गाइडलाइन के अनुरूप निर्धारित संख्या में प्रदेश पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे। अन्य प्रदेश पदाधिकारी और प्रदेश कार्यसमिति सदस्य जिन जिलों से आते हैं, उन्हीं जिलों के जिला कार्यालयों से वर्चुअली जुडेंगे। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा जी बैठक के उद्घाटनकर्ता एवं मुख्य अतिथि रहेंगे। वे भी वर्चुअली बैठक का उद्घाटन करेंगे। बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव सहित अन्य प्रस्ताव लाए जाएंगे।
यह जानकारी आज भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान दी। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पार्टी ने यह प्रदेश कार्यसमिति वर्चुअली आयोजित करने का निर्णय लिया है। शर्मा ने बताया कि प्रदेश कार्यसमिति के बाद 1 जुलाई से 15 जुलाई तक जिला कार्यसमितियां तथा 16 जुलाई से 31 जुलाई तक मण्डल कार्यसमितियों का आयोजन किया जाएगा।
प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने मीडिया को बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा जी ने जो राष्ट्रव्यापी अभियान लिया है, उसके अंतर्गत मध्यप्रदेश में भी पार्टी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करेगी। इस संबंध में प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में रूपरेखा बनी है। उन्होंने बताया कि ये कार्यक्रम जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस 23 जून से शुरू होंगे और उनके जन्मदिन 6 जुलाई तक चलेंगे। प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने बताया कि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग के बारे में जागरूकता के लिए प्रत्येक मंडल में दो स्थानों में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इन कार्यक्रमों में पार्टी कार्यकर्ताओं के अलावा प्रबुद्धजन कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए भाग लेंगे। डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर 23 जून को उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। जिस धारा 370 को हटाने की मांग को लेकर जनसंघ की स्थापना हुई थी और डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी शहीद हुए थे, उसे हटाने का काम हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने किया है। इन बातों और डॉ. मुखर्जी के विचारों को जन-जन तक ले जाने का काम हमारे कार्यकर्ता करेंगे। शर्मा ने बताया कि इसी सप्ताह में वृक्षारोपण अभियान चलाया जाएगा और पार्टी की बूथ समिति का प्रत्येक कार्यकर्ता एक पौधा लगाएगा। इस तरह प्रत्येक बूथ पर 11 पौधे रोपे जाएंगे।
शर्मा ने कहा कि वैक्सीनेशन जब शुरू हुआ था, तब पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रत्येक बूथ पर हेल्प डेस्क लगाकर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने का काम किया था। पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व ने यह तय किया है कि प्रत्येक बूथ को वैक्सीनेशन युक्त बनाया जाए। इसके अलावा प्रदेश सरकार ने भी वैक्सीनेशन के लिए काफी प्रभावी रणनीति बनाई है, जिसके लिए मैं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान को धन्यवाद देता हूं। सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर पार्टी कार्यकर्ता सभी 7 हजार वैक्सीनेशन सेंटर्स पर हेल्प डेस्क लगाकर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करेंगे और उनकी सहायता करेंगे। जिस तरह से कोविड संकट के समय हेल्प लाइन नंबर जारी किया गया था, वैसे ही अब वैक्सीनेशन के लिए भी हेल्प लाइन नंबर जारी किया जायेगा। किसी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो वह ले सकेगा। शर्मा ने बताया कि उनके संसदीय क्षेत्र खजुराहो में जनजागरूकता के लिए वैक्सीनेशन जागरूकता रथ निकाला गया था जो प्रत्येक गांव में पहुंचा था और लोगों की गलतफहमियों को दूर किया था। ऐसा ही प्रयास कई अन्य सांसदों और विधायकों ने भी किया है। पार्टी के जनप्रतिनिधि आगामी अभियान में भी ऐसी ही भूमिका निभाएंगे, ताकि 21 जून से अधिक से अधिक लोग वैक्सीनेशन के लिए पहुंचें।
शर्मा ने बताया कि किसी भी संभावित संकट या महामारी से सुरक्षा के लिए पार्टी ने प्रत्येक गांव में स्वास्थ्य स्वयंसेवक तैयार करने का निर्णय लिया है। इसके लिए प्रत्येक गांव से एक युवा और महिला कार्यकर्ता का चयन किया जाएगा, जिन्हें प्रशिक्षण और उपयोगी सामग्री दी जाएगी। मंडल स्तर पर जो समिति बनेगी उसमें एक युवा, एक महिला और एक चिकित्सक शामिल होगा। इसके अलावा जिला एवं प्रदेश स्तर पर भी टीमें होंगी। भविष्य में कोई भी विपत्ति आने पर प्रत्येक गांव के दो कार्यकर्ता मंडल समिति, जिला समिति और प्रदेश समिति के साथ उस संकट का मुकाबला करेगी। शर्मा ने बताया कि कोविड संकट के दौरान हमारे चिकित्सा प्रकोष्ठ ने पहले भी काम किया है और अभी भी गंभीरतापूर्वक काम कर रहा है। प्रकोष्ठ द्वारा जो कॉल सेंटर स्थापित किए गए थे, उनके अच्छे परिणाम आए हैं। शर्मा ने कहा कि 27 जून को प्रधानमंत्री मोदी का श्मन की बात्य कार्यक्रम होगा। इस कार्यक्रम से प्रत्येक बूथ को जोड़े जाने के लिए पार्टी अपनी रचना तैयार करेगी।
शर्मा ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी के कुल 1070 मण्डल हैं। इनमें एक हजार से अधिक मण्डलों में कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण हो चुका है। अब बचे हुए मण्डलों के साथ-साथ जिलों के प्रशिक्षण भी होंगे। ये प्रशिक्षण भी आभासी यानी वर्चुअल होंगे।