August 5, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

पानी के गड्ढे में नहाने गये दो किशोरों की डूबने से मौत

काशीपुर 16 जून (DVNA)। पानी के गड्ढे में नहाने गये दो किशोरों की डूबने से मौत हो गई। जबकि उनके तीन अन्य साथियों ने बामुश्किल अपनी जान बचाई। साथियों के डूबने की सूचना बचे हुए किशोरों ने गांव में जाकर दी। इससे गांव में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पहुंचे ग्रामीणों ने किशोरों के शवों को बाहर निकाला।

सूचना पर सीओ वंदना वर्मा ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। बुधवार की दोपहर को नगर पंचायत केलाखेड़ा के गांव भौवानगला निवासी फैजान (15) पुत्र नूर अहमद, फरमान (11) पुत्र इस्लाम नवी अपने साथी बिलाल, अलफैज और साहिल के साथ गांव के ही एक ईंट भट्टे में बने पानी के गड्ढे में नहाने गए थे। नहाने के दौरान फैजान और फरमान गहरे पानी की ओर चले गये और वह दोनों पानी में डूब गए। दोनों किशोरों की मौत की सूचना साथियों ने ग्रामीणों को दी। इसके बाद मृतकों के परिजन और अन्य ग्रामीण घटनास्थल की ओर दौड़े। इन लोगों ने दोनों के शवों को बाहर निकाला। इधर, सूचना मिलते ही सीओ वंदना वर्मा, केलाखेड़ा एसओ बीसी जोशी टीम के साथ मौके पर जा पहुंचे। सीओ ने मृतक के परिजनों से वार्ता की और उन्हें ढांढस बंधाया। केलाखेड़ा पुलिस ने शवों का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। किशोरों की मौत से परिजनों में गहरा रोष और ग्रामीण भी गमजदा हैं। इधर, फरमान के परिजनों ने बताया कि मृतक फरमान कक्षा दो में पढ़ाई करता था।

साहिल ने घर पहुंचकर पिता को दी सूचना
मृतकों के साथ नहाने गये किशोर साहिल ने तुरंत गांव में पहुंचकर घटना की जानकारी अपने पिता रहीम को दी। रहीम ने भी बिना देरी किये डायल 112 नंबर पर इसकी सूचना दी। सूचना के तुरंत बाद ही रहीम व अन्य किशोरों के परिजन व ग्रामीण घटना स्थल पर इस आस में दौड़े थे कि वह दोनों बच्चों को बचा लेंगे। लेकिन, होनी को शायद कुछ और ही मंजूर था।

मिट्टी उठान के कारण गहरे हो जाते हैं गड्ढे
ईंट भट्टों के परिसर से बाहर बने यह गहरे गड्ढे अकसर दुर्घटनाओं को निमंत्रण देते रहते हैं। भट्टा स्वामी इन क्षेत्रों से मिट्टी का उठान कराते हैं। इस कारण यहां पर गहरे गड्ढे बन जाते हैं। बरसातों के मौसम में यह गड्ढे बरसाती पानी से भर जाते हैं। ऐसे में इनकी गहराई का अंदाजा लगाना मुश्किल होता है। गांव में अकसर बच्चे ऐसे गड्ढों तालाबों में नहाते हुए दिख जाते हैं। लेकिन, बताया जा रहा है कि इस गड्ढे की गहराई 10 फीट के करीब थी। इस कारण यह हादसा हुआ है।
दो बच्चों के गड्ढे में पानी में डूबने की सूचना मिली थी। इस पर केलाखेड़ा पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई थी। इन दोनों बच्चों की डूबने के कारण मौत हो गई है। इन दोनों के शवों का पंचनामा भर पीएम के लिये भेजा गया है। -वंदना वर्मा, सीओ बाजपुर।