June 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

गरीबों में बांटे ईद की खुशियाँ: सुब्हानी मियां

बरेली-डीवीएनए। ईद के मौके पर दरगाह प्रमुख हजरत मौलाना सुब्हान रजा खान (सुब्हानी मियां) व सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रजा कादरी (अहसन मियां) ने मुल्क भर के मुसलमानों के नाम अपील जारी करते हुए आव्हान किया कि ईद को बेहद सादगी साथ मानये और गरीबों व जरुरतमंदो की ज्यादा से ज्यादा मदद करे । लॉकडॉउन का पालन करते हुए दुनिया भर से बिल खुसूस मुल्क-ए-हिंदुस्तान से कोरोना खात्मे की दुआ करे ।
दरगाह प्रमुख हजरत सुब्हानी मियां ने सभी लोगो को ईद-उल-फित्र की मुबारकबाद देते हुए कहा कि ईद आपसी भाईचारे और खुशियों का त्योंहार है । लेकिन इस साल कोरोना महामारी ने लाखों करोड़ो लोगो से ईद की खुशियों छीन ली । शायद ही कोई ऐसा शख्स बचा हो जिसने अपने किसी दोस्त या अहबाब को खोया न हो । इस महामारी ने जिदंगी के साथ ही अनगिनत लोगो के रोजगार खत्म कर दिए । मुल्क के जयादातर सूबों में लोग मौत जिन्दगी से जूझ रहे है । हर शख्स पर दोहरी मार पड़ी है एक तरफ लोग बीमारी से लड़ रहे है वहीं दूसरी तरफ कारोबार की जद्दोजहद । आगे भी लॉकडाउन की वजह से बेरोजगारी और भूखमरी का संकट बना हुआ है । ऐसे में धूमधाम से ईद की खुशियाँ कैसे मानये । बेहतर है कि गरीबों में ईद की खुशियां बाँटे ।
मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी ने बताया कि इस मौके पर सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रजा कादरी (अहसन मियां) ने आलम ए इस्लाम को मुबारकबाद देते हुए कहा कि ऐसे मुश्किल वक्त में सभी लोग सब्र और सादगी के साथ ईद मनाये । अल्लाह की बारगाह में तौबा करें । भीड़-भाड़ से बचें । आगे कहा कि पूरे तीस रोजो का इनाम अल्लाह अपने बन्दों को ईद के रूप में देता है । इस दिन अल्लाह की तरफ से नवाजिश और इनाम होते है । ईद हमे इस बात की भी दर्स (शिक्षा) देती है कि हम अपने रब की रजा की खातिर खूब- खूब इबादत करे । ये इंसानियत का भी त्योंहार है । मुफ्ती सलीम नूरी ने कहा कि हमारा मजहब हमे बताता है कि हमारी दौलत सिर्फ हमारी ही नही है । अगर उसकी जरूरत हमारे भाइयों, बहनों, रिश्तेदारों व पड़ोसियों को है, तो वो उनकी भी है । इसलिए मजहब ए इस्लाम मे जकात और फित्रा का हुक्म शरई मालदारों को दिया । ताकि लोग गरीबों का खास ख्याल रखे ।