October 25, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

भारतरत्न बाबा साहब डाॅ बीआर आंबेडकर जैसा महान व्यक्ति इस धरा पर कभी-कभी आता है: CM योगी

लखनऊ। डीवीएनए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारतरत्न बाबा साहब डाॅ0 बीआर आंबेडकर जैसा महान व्यक्ति इस धरा पर कभी-कभी आता है, जो आने वाली पीढ़ी को प्रेरणा प्रदान करता है। विश्व में जब भी स्वतंत्रता, समानता, न्याय, बन्धुता की बात होगी, बाबा साहब को अत्यन्त आदरपूर्वक याद किया जाएगा। उन्होंने विषम परिस्थितियों में न केवल उच्चतम शिक्षा हासिल की, बल्कि लोगों को न्याय दिलाने के लिए भी आगे आए। उनका मानना था कि सामाजिक व आर्थिक विषमता को दूर कर ही सच्ची स्वाधीनता पायी जा सकती है।
मुख्यमंत्री आज यहां भारतरत्न बोधिसत्व बाबा साहब डाॅ0 भीमराव आंबेडकर महासभा में बाबा साहब डाॅ0 बी0आर0 आंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने के पश्चात अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय संविधान डाॅ0 आंबेडकर जी की जीवन साधना है। डाॅ0 आंबेडकर को वैश्विक सम्मान दिलाने में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का महत्वपूर्ण योगदान है। जहां एक ओर प्रधानमंत्री जी बाबा साहब डाॅ0 आंबेडकर से जुड़े स्थलों को विकसित कर उनके दर्शन से वर्तमान एवं भावी पीढ़ी को जोड़ने का महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर डाॅ0 आंबेडकर की सोच के अनुरूप विकास कार्यों को भी समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद भी जिन गांवों को राजस्व ग्राम का दर्जा प्राप्त नहीं था और इन गांवों के लोगों को वोट देने का भी अधिकार नहीं था, उन्हें हमारी सरकार ने यह अधिकार प्रदान किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा बाबा साहब के चित्र को सभी सरकारी कार्यालयों मंे लगाने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। इस तरह से वर्तमान सरकार ने हर जनपद, तहसील, ब्लाॅक तथा गांवों को आंबेडकर जी की स्मृतियों से जोड़ने का काम किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों, दलितों व वंचितों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ना वर्तमान सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि समाज के अंतिम पायदान पर खड़े प्रत्येक गरीब, दलित और वंचित वर्ग के व्यक्ति को प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा जनधन योजना, गरीब के लिए आवास, घर में शौचालय निर्माण, निःशुल्क बिजली कनेक्शन, निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन जैसी योजनाओं के माध्यम से बेहतर जीवन स्तर उपलब्ध कराया गया है। प्रत्येक गरीब परिवार को आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से 05 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना ने गरीबों के हाथ में ताकत सौंपी है। यह योजना हमारे गांवों में ऐतिहासिक परिवर्तन ला रही है। इस योजना से ग्रामीण क्षेत्रों में सम्पत्ति सम्बन्धी विवादों में काफी कमी आएगी। स्वामित्व का अधिकार मिलने से उन्हें अपनी प्राॅपर्टी पर सुरक्षा की गारण्टी मिलेगी तथा लोन प्राप्त हो सकेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार ने देश-विदेश में बाबा साहब डाॅ0 आंबेडकर से जुड़े 05 स्थलों को ‘पंच-तीर्थ’ के रूप में स्थापित किया है। इनमें मध्य प्रदेश स्थित उनका जन्म स्थान महू छावनी तथा लंदन का वह घर, जहां ब्रिटेन में रहते हुए उन्होंने अपनी पढ़ाई की, सम्मिलित हैं। साथ ही, नागपुर में दीक्षा भूमि, दिल्ली स्थित महापरिनिर्वाण स्थल तथा मुम्बई में चैत्य-भूमि भी शामिल है। ‘पंच-तीर्थ’ स्थलों के माध्यम से लोगों को बाबा साहब डाॅ0 आंबेडकर की दृष्टि एवं विचारों को जानने एवं समझने का अवसर प्राप्त हो रहा है।
कार्यक्रम को श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री, विधायी एवं न्याय मंत्री बृजेश पाठक तथा भारतरत्न बोधिसत्व बाबा साहेब डाॅ0 भीमराव आंबेडकर महासभा के अध्यक्ष डाॅ0 लालजी प्रसाद निर्मल ने भी सम्बोधित किया।
कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने ‘डाॅ0 आंबेडकर और जोगेन्द्रनाथ मण्डल’ पुस्तक का विमोचन किया।
कार्यक्रम से पूर्व, मुख्यमंत्री ने डाॅ0 आंबेडकर महासभा परिसर में स्थापित तथागत बुद्ध की प्रतिमा पर माल्यार्पण तथा डाॅ0 आंबेडकर के अस्थि कलश पर पुष्पांजलि भी अर्पित की।
इस अवसर पर लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 नवनीत सहगल, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। भारतरत्न बाबा साहब डाॅ बीआर आंबेडकर जैसा महान व्यक्ति इस धरा पर कभी-कभी आता है: योगी