May 11, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

शीतलहर के दृष्टि सभी जरूरतमंदों को कम्बल वितरित किये जाएं: CM योगी

लखनऊ। डीवीएनए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने औद्योगिक एवं अवस्थापना विकास आयुक्त को सभी जनपदों में वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग करके कामगारांे व श्रमिकों को रोजगार देने की स्थिति की समीक्षा करने के निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री ने यह निर्देश आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा के दौरान दिये। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार लोगों को सरकारी व निजी क्षेत्र में रोजगार मुहैया कराने के लिये संकल्पबद्ध है। इसके लिए प्रदेश में संचालित विभिन्न योजनाओं के माध्यम से भी उन्हें स्वावलम्बी बनाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने एफ0पी0ओ0 स्थापित करने के निर्देश देते हुए कहा कि इसके लिए कृषि विभाग सक्रियता से कार्य करे।
किसान आन्दोलन के दृष्टिगत मुख्यमंत्री ने सभी जनपदों के प्रशासन को संवाद बनाकर कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने प्रदेश में पेट्रोलिंग बढ़ाने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश के किसी भी क्षेत्र में सड़कों पर जाम न लगने पाए। उन्होंने नोएडा, गाजियाबाद क्षेत्र में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शीतलहर के दृष्टि सभी जरूरतमंदों को कम्बल वितरित किये जाएं। उन्होंने कहा कि शीत ऋतु में गरीबों और निराश्रितों को राहत पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा प्रत्येक जनपद में रैन बसेरों की व्यवस्था करायी गई है। प्रत्येक जनपद में प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित करे कि कोई खुले में न सोए। यदि कोई ऐसा दिखे तो उसे रैन बसेरे तक पहुंचाया जाए।
बैठक में मुख्य सचिवआर0के0 तिवारी, औद्योगिक एवं अवस्थापना आयुक्त आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 तथा सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, राहत आयुक्त संजय गोयल, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।