April 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

फिर गरजा प्रशासन का बुल्डोजर, मुख्तार के करीबी की बिल्डिंग का ध्वस्तीकरण

ग़ाज़ीपुर। डीवीएनए

एक बार फिर प्रशासन का बुलडोजर गरज उठा। मुख्तार के एक और गाजीपुर के करीबी प्रॉपर्टी डीलर गणेशदत्त मिश्र की बहु मंजिला बिल्डिंग का ध्वस्तीकरण रविवार की सुबह शुरू हुआ। मालूम हो कि बिल्डिंग गिराने का आदेश देर रात डीएम एमपी सिंह ने दिया है।

डीएम की अगुवाई में आठ सदस्यीय अधिकारियों के बोर्ड ने देर रात एसडीएम कोर्ट के फैसले को सुरक्षित रखते हुए बिल्डिंग के ध्वस्तीकरण पर मुहर लगा दी थी। शहर के रजदेपुर देहाती स्थित श्रीराम कॉलोनी में गणेशदत्त मिश्र ने अपने पिता के नाम से एक बहुमंजिली इमारत का निर्माण करवाया है। प्रशासन के मुताबिक मकान के निर्माण में मास्टर प्लान के नियमों का पालन नहीं किया गया है।

देखा जाए तो पिछले कुछ महीनों से शासन-प्रशासन द्वारा मुख्तार अंसारी एवं उनसे जुड़े लोगों पर लगातार कार्रवाई चल रही है। शनिवार को देर रात मुख्तार के करीबी प्रॉपर्टी डीलर की बिल्डिंग गिराने के आदेश को भी इसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

ज्ञात हो कि नगर से सटे रजदेपुर देहाती स्थित गणेशदत्त मिश्रा के पिता शिवशंकर मिश्र के नाम से हुए अवैध निर्माण को ध्वस्त करने का सदर एसडीएम ने नोटिस जारी किया है।

इस पर मालिकान ने जिलाधिकारी के यहां अपील दाखिल की थी। सदर एसडीएम ने बीते 12 नवम्बर को आदेश जारी किया था। उन्होंने सख्त निर्देश दिया था कि एक सप्ताह के अंदर अगर वह स्वयं अवैध निर्माण नहीं गिराएंगे तो प्रशासन इसे ध्वस्त कर देगा।

इसमें जो भी खर्च आएगा, उसे उनसे वसूल किया जाएगा। जिला प्रशासन के अनुसार यह बिल्डिग बिना मास्टर प्लान द्वारा नक्शा स्वीकृति के ही बनाया गया है। इस पर एसडीएम ने यह नोटिस जारी किया है।

इसी आदेश के बाद मालिकान ने जिलाधिकारी के यहां अपील दाखिल की थी। जिसपर बीती रात डीएम की अगुवाई वाली बोर्ड की बैठक में राहत न मिलने के बाद ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया शुरू हुई।

संवाद राकेश पाण्डेय