October 27, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से मिले बिहारी गुरु

देहरादून। डीवीएनए
मैथमेटिक्स गुरु फेम आर के श्रीवास्तव इन दिनों सुर्खियों में छाए है। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून पहुँचे आर के श्रीवास्तव ने प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से शिष्टाचार मुलाकात किया।

मुख्यमंत्री आवास पर मुलाकात के वक्त घंटो शैक्षणिक चर्चा हुआ। त्रिवेंद्र रावत ने उनसे उत्तराखंड आकर प्रदेश के मेधावी छात्रों को कोचिंग देने का न्यौता दे दिया। श्रीवास्तव के नाईट क्लासेज प्रारूप (पूरे रात लगातार 12 घण्टे) को भी उत्तराखंड में लागू करने की बात मुख्यमंत्री ने की।

मुख्यमंत्री रावत ने इसके लिए विशेष पेशकश करते हुए कहा कि राज्य सरकार इस कार्य में उनकी हरसंभव मदद करेगी। स्टूडेंट्स को सेल्फ स्टडी के प्रति जागरूक कर सफलता दिलाने में नाईट क्लासेस प्रारूप इन दिनों देश मे चर्चा का विषय बना हुआ है। आपको बताते चले कि आर के श्रीवास्तव के निःशुल्क शैक्षणिक कार्यशैली और नाईट क्लासेज प्रारूप के तहत पूरे रात लगातार 12 घण्टे जादुई तरीके से पढ़ाने की कला ने, सैकड़ो असहाय, गरीब स्टूडेंट्स को आईआईटी, एनआईटी, बीसीईसीई सहित देश के प्रतिष्टित संस्थाओ में सफलता दिलाकर उनके सपने को पंख लगाया।

बिहार के गरीब बच्चों को आईआईटी, एनआईटी, बीसीईसीई सहित देश के प्रतिष्टित इंजीनियरिंग कॉलेजो में पहुंचाने वाले आर के श्रीवास्तव से ही प्रेरित होकर बहुत सारे संस्थाए इनके शैक्षणिक कार्यशैली को अपना रहे हैं। चाहे वह स्टूडेंट्स को शपथ दिलाकर शिक्षा के लिए प्रेरित करना हो या पूरे रात लगातार 12 घण्टे जादुई तरीके से गणित का गुर सिखाना हो।

एक रुपया में पढ़ाते हैं आरके श्रीवास्तव
बिहार के रोहतास जिले के रहने वाले आरके श्रीवास्तव देश में मैथेमैटिक्स गुरु के नाम से मशहूर हैं। खेल-खेल में जादुई तरीके से गणित पढ़ाने का उनका तरीका लाजवाब है। कबाड़ की जुगाड़ से प्रैक्टिकल कर गणित सिखाते हैं। सिर्फ 1 रुपया गुरु दक्षिणा लेकर स्टूडेंट्स को पढ़ाते हैं। आर्थिक रूप से सैकड़ों गरीब स्टूडेंट्स को आईआईटी, एनआईटी, बीसीईसीई सहित देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में पहुँचाकर उनके सपने को पंख लगा चुके हैं।

वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्डस और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में भी आरके श्रीवास्तव का नाम दर्ज है। आरके श्रीवास्तव के शैक्षणिक कार्यशैली की प्रशंसा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी कर चुके हैं। इनके द्वारा चलाया जा रहा नाइट क्लासेज अभियान अद्भुत, अकल्पनीय है। स्टूडेंट्स को सेल्फ स्टडी के प्रति जागरूक करने लिये 450 क्लास से अधिक बार पूरी रात लगातार 12 घंटे गणित पढ़ा चुके हैं। इनकी शैक्षणिक कार्यशैली की खबरें देश के प्रतिष्ठित अखबारों में छप चुकी हैं, विश्व प्रसिद्ध गूगल ब्वाय कौटिल्य के गुरु के रूप में भी देश इन्हें जानता है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आर के श्रीवास्तव द्वारा गरीब पृष्ठभूमि के मेधावी विद्यार्थियों को आईआईटी, एनआईटी, बीसीईसीई सहित देश की प्रतिष्टित संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए निःशुल्क कोचिंग देकर उनका भविष्य निर्माण करने जैसे पुनीत कार्य के लिए श्रीवास्तव की सराहना की। मुख्यमंत्री ने आर के श्रीवास्तव को उत्तराखंड आकर यहाँ के ऐसे मेधावी छात्रों, जिनकी आर्थिक स्थिति महंगी कोचिंग हासिल करने की नहीं है, उन्हें भी प्रेरित करने एवं प्रदेश के गरीब विद्यार्थियों को निःशुल्क कोचिंग देने के लिए आमंत्रित किया।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस कार्य में उनकी हरसंभव मदद करेगी।