August 5, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

वैवाहिक कार्यक्रम में 45 जोड़ो ने पढ़े मंत्र और 11 जोड़ो का पढ़ाया गया निकाह

मुरादाबाद। डीवीएनए
ठाकुरद्वारा में शनिवार को ब्लाक सभागार में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत 56 जोड़ो का विवाह संपन्न कराया गया है। वैवाहिक कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भाजपा के पूर्व सांसद कुंवर सर्वेश सिंह व ब्लाक प्रमुख प्रेमलता ने सयुंक्त रूप फीता काट कर शुभारंभ किया और जोड़ो को जीवन भर साथ रहने का आर्शिवाद दिया।

ब्लाक सभागार मेें सुबह 10 बजे मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंर्तगत ब्लाक सभागार में कोविड-19 की नियामवली का पूर्ण रूप से पालन करते हुए वैवाहिक कार्यक्रम शुरू हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुंवर सर्वेश सिंह व ब्लाक प्रमुख प्रेमलता ने संयुक्त रूप से फीता काटकर और मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया। कार्यक्रम में पहले पाली के दौरान पंडित खुशीराम शर्मा ने 21 हिन्दू जोड़ो का विधि विधान से पूजा अर्चना के साथ विवाह संपन्न कराया। वहीं 10 मुस्लिम युवक और युवतियों का कारी मुस्तफा ने निकाह कराया। दूसरी पाली में 24 जोड़ो को हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार विवाह संपन्न कराया और 11 मुस्लिम जोड़े का कारी मुस्तफा ने निकाह कराया। दोनो पालियो में कुल 45 हिन्दू जोड़ो ने सात फेरे लेकर जीवन भर साथ रहने का संकल्प लिया और वही मुस्लिम समाज के 11 जोड़ो का निकाह कराया गया। कार्यक्रम में वैवाहिक जोड़ो को भाजपा के पूर्व सांसद व ब्लाक प्रमुख ने संयुक्त रूप से प्रमाण पत्र वितरण कर जीवन भर साथ रहने का आर्शीवाद दिया।
जेई निर्मल कुमार ने बताया कि ब्लाक सभागार में वैवाहिक कार्यक्रम के लिए लगे पंडाल व सभागार में केवल वैवाहिक जोड़ो को प्रवेश दिया गया। वैवाहिक कार्यक्रम के संपन्न के पश्चात वैवाहिक जोड़ो की खान पान की व्यवस्था भी कराई गई। कार्यक्रम का संचालन खंड विकास अधिकारी राजेंद्र सिंह व जिला समाज कल्याण अधिकारी सुनील कुमार द्वारा किया गया। कार्यक्रम में ब्लाक प्रमुख पति सुमित कुमार एडवोकेट, ए डीओ समाज कल्याण नरेश चौहान, अनिल कुमार, सचिव जयलाल शर्मा, जसपाल सिंह, चंद्रपाल सिंह, रूद्वदत्त शर्मा, जयकुमार, अमर सिंह प्रधान, नवीन शर्मा आदि मौजूद रहे।

एक ही छत के नीचे सुनाई दिए मंत्र व कुरआन की आयतें
मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत खण्ड विकास क्षेत्र कार्यालय परिसर मद बैंड वैवाहिक पंडाल में 45 हिन्दू जोड़ों के सात फेरे हुए तो 11 मुस्लिम जोड़ों का निकाह कराया गया। इस दौरान जंहा विवाह के मंत्रों का उच्चारण सुनाई दिया वंही दूसरी ओर निकाह के लिए कुरआन की आयतें भी सुनाई दी गईं। इस दृश्य को देखकर एक बार फिर से देश की गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल कायम होती दिखाई दी।
संवाद यामीन विकट