May 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

मोदी सरकार को अन्ना हजारे के आंदोलन की आशंका, गिरीश महाजन को फिर अन्ना हजारे को मनाने भेजा गया

रालेगण सिद्धि-महराष्ट्र (डीवीएनए)। पिछले दो महीनों से, दिल्ली में किसान कृषि कानूनों को निरस्त करने का विरोध कर रहे हैं। गणतंत्र दिवस पर एक ट्रैक्टर मार्च भी निकाला गया था लेकिन के भेजे हुए चंद गुंडों ने मार्च ने हिंसक रूप मैं बदलने की नाकाम कोशिश की। वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने दिल्ली में आंदोलन की पृष्ठभूमि के खिलाफ आंदोलन करने की चेतावनी दी है। समझा जाता है कि अन्ना हजारे केंद्र में भाजपा सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे। अगर अन्ना हजारे आंदोलन करते हैं, तो केंद्र सरकार का सिरदर्द बढ़ने की संभावना है।
अन्ना हजारे ने रालेगण सिद्धि में कल 30 जनवरी से उपवास पर जाने की चेतावनी दी है। इसलिए बीजेपी नेताओं की भीड़ शुरू हो गई है। नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने रालेगण सिद्धि में अन्ना हजारे को मनाने का प्रयत्न किया गया लेकिन यह समझा जाता है कि अन्ना हजारे आंदोलन करने के लिए दृढ़ हैं। गिरीश महाजन अन्ना हजारे से मिलने आज सुबह रालेगण सिद्धि आए थे। इससे पहले महाजन ने अन्ना हजारे से मुलाकात की थी।
अन्ना हजारे और गिरीश महाजन के बीच विचार-विमर्श हुआ। गिरीश महाजन ने अन्ना हजारे से आंदोलन नहीं करने का आग्रह किया है। महाजन ने कहा कि वह और केंद्रीय राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे पाटील अन्ना हजारे से मिलेंगे और उन्हें समझाने की कोशिश करेंगे।
वाजेद असलम ब्यूरो चीफ महाराष्ट्र