May 16, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

एटा अर्बन में बाल विकास की पुष्टाहार वितरण चौपट

एटा। डीवीएनए

एटा के शहरी इलाके में उड़ाई जा रही हैं। बहुत दिनों से प्राप्त कराए गए गेंहू चावल एव अन्य सूखा पोषक आहार एटा नगर के कोटेदार धरे बैठे है। उन्हें आईसीडीएस के मानकों के अनुसार गाइडलाइन भेज कर केंद्र पर यह सामग्री उपलब्ध कराने के निर्देश है।

परंतु पिछले 3 दिनों से अनेक कोटेदार कोई आदेश न मिलने का बहाना बना कर आंगनबाड़ी को परेशान कर रहे है।इधर विभागीय अफसरों ने 3 दिन के भीतर लाभार्थियों को यह पुष्टाहार बांटने और उसकी सूची अपलोड करने का फरमान जारी कर दिया है। शहर की दर्जनों आंगनबाड़ियों ने कहा बिना पैकेजिंग के वितरण कैसे करे उधर कोटेदार राशन कम नाप तौल से दे रहे हैं ऐसे शतप्रतिशत गुणवत्ता परक वितरण पर पहले चरण में ही सवाल उठने लगे हैं।

जबकि गाइड लाइन के मुताबिक यह पुष्टाहार केंद्रों तक पैकेज में पहुंचाने की जिम्मेदारी कोटेदार/स्वयं सहायता समूह की है। परन्तु इन व्यवस्थाओ के मुकम्मल प्रबन्ध न करने की बजाय स्थानीय अफसर सब कुछ साधन विहीन आंगनबाड़ियों के ऊपर व्यवस्था का बोझ डाल कर अपने आप को शाबाशी देने में जुटे हैं। एटा शहर में नई पोषाहार नीति स्थानीय अफसरों की अनदेखी के कारण मख़ौल बन कर रह गई हैं।

संवाद वैभव पचौरी