June 13, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

चुनावी रंग: ग्रामीणों ने सड़क निर्माण को दिया धरना

बांदा (डीवीएनए )। पंचायत चुनाव नजदीक देख चुनाव लड़ने के इच्छुक समस्याओं को लेकर आवाज बुलंद करनें लगे हैं। इसी क्रम में अतर्रा तहसील क्षेत्र के ग्राम महुटा निवासियों ने जर्जर सड़क के पुनर्निर्माण की मांग को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। मौके पर पहुंचे तहसीलदार को ज्ञापन दिया। सड़क निर्माण कराने के लिये दो सप्ताह का समय दिया। जर्जर मार्ग से आजिज लोगों ने कहा कि मांग पूरी न होने पर पांच फरवरी से आमरण अनशन किया जाएगा।

चार हजार आबादी वाले गांव महुटा का संपर्क मार्ग नेशनल हाईवे से निकले ग्राम तुर्रा-पथरा से जुड़ा हुआ है। सन 1997 में लोक निर्माण विभाग ने ढाई किमी लंबे मार्ग का डामरीकरण किया था। विगत कई वर्षों से महुटा में बालू खदान के संचालन से इस मार्ग की स्थित खराब हो गई है। हालत यह है कि सड़क में जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे व उखड़ी गिट्टियों के कारण आए दिन राहगीर मार्ग दुर्घटना में घायल होते हैं। ग्रामीणों ने उक्त मार्ग के निर्माण के लिए विभागीय अधिकारियों, व जनपद के उच्चाधिकारियों सहित मुख्यमंत्री तक पत्र भेज गुहार लगाई थी, लेकिन कोई सुनवाई ना होने पर सोमवार को पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत बद्री पांडेय के नेतृत्व में तीन सैकड़ा लोगों ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया।धरने के दौरान दोपहर 12 बजे ग्रामीणों ने गांव के मुख्य मार्ग को जाम कर दिया।लगभग एक घण्टे बाद सूचना पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक अतर्रा अखिलेश मिश्रा ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन रोड जाम किये लोग रोड निर्माण के लिखित आश्वासन की जिद पर अड़े रहे।

पुलिस की सूचना पर पहुंचे तहसीलदार ने विजय प्रताप सिंह ने मौके पर पहुंचकर संबंबंधित विभाग से वार्ता कर मार्ग निर्माण का आश्वासन दिया। तब जाकर ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन समाप्त करते हुए तहसीलदार को ज्ञापन दिया॥ दो सप्ताह में निर्माण न होने पर 5 फरवरी से बद्री पांडेय ने अनिश्चित कालीन आमरण अनशन की चेतावनी दी। इस दौरान राजा मनीष तिवारी,अंकित मिश्रा,सुमित, विद्यासागर, शिवकांत आदि मौजूद रहे।
संवाद , विनोद मिश्रा