June 20, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

जब गोलीकांड में मारा गया ड्राइवर और चमक गयी विजय यादव की राजनीति

मुरादाबाद डीवीएनए। समाजवादी पार्टी से राजनीती की शुरुआत करने वाले ठाकुरद्वारा के विजय यादव एक बार फिर से सपा में शामिल हो गए हैं। इससे पहले वह बसपा में थे। 2007 में बसपा से विधायक बनने वाले विजय यादव आज समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विजय यादव को समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई।

लगभग 15 साल पहले ठाकुरद्वारा तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख विपिन कुमार के खिलाफ कुंवर सर्वेश सिंह की अगुवाई में अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था, लेकिन तब राजनैतिक रूप से उभर रहे विजय यादव ने विपिन का समर्थन किया।

हिंदी अख़बार हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, उस समय विजय यादव अखिलेश यादव के ससुरालियों के सहारे सपा की नेतागिरी करते थे। अविश्वास प्रस्ताव के दौरान भूरा ने ब्लॉक गेट पर मौजूद रहकर जमकर फायरिंग की थी। इस फायरिंग में विजय यादव का ड्राइवर मारा गया था।

बाद में विजय यादव ने बसपा के टिकट पर सर्वेश को ठाकुरद्वारा चुनाव में हराकर विधायकी हासिल कर ली। इसके बाद बसपा से टिकट कटा तो महान दल से चुनाव लड़ा, लेकिन हार का सामना करना पड़ा।

फिर से बसपा में वापसी की। लेकिन क्षेत्र के सियासी समीकरण बदले और नवाब जान खां की चमकती राजनीती के चलते विजय यादव को फिर से हार का सामना करना पड़ा।