June 18, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

डीएम आनन्द को आया गुस्सा, कई अधिकारी हुये नाराजगी के शिकार

बांदा (डीवीएनए)। परियोजनाओ के क्रियान्वयन में गजब की लेट लतीफी देख डीएम आनंद कुमार सिंह दंग रह गये। उन्होनें समीक्षा में पाया की 50 लाख से अधिक लागत वाली परियोजनाएं कार्यदाई संस्थाओं की लापरवाही की शिकार हैं। यह स्थिति देख डीएम आनन्द सिंह की आनन्द की मुद्रा खत्म हो गई । वह तैश में आ गये। परियोजनाओं के निर्माण में देरी पर असंतोष जताया। बैठक में अनुपस्थित सीएनडीएस परियोजना प्रबंधक से स्पष्टीकरण मांगने के आदेश दिए।
डीएम ने कहा कि जनपद में 304605.68 लाख की लागत की 72 परियोजनाएं स्वीकृत हैं। शासन से 47632.49 लाख रुपये मिल चुके हैं, लेकिन अब तक 11 परियोजनाएं ही पूरी हो सकी हैं। जल जीवन मिशन के अंतर्गत अमलीकौर ग्राम समूह पाइप पेयजल योजना व खटान ग्राम समूह पेयजल योजना का काम शुरू न करने पर नाराजगी जताई।अधिशासी अभियंता लघु सिंचाई को निर्देश दिए कि कंपनी से अवमुक्त धनराशि की जानकारी प्राप्त कर जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी को अवगत कराएं। सीएनडीएस यूनिट 48 महोबा, राजकीय निर्माण निगम के अधिशासी अभियंता के अनुपस्थित होने पर असंतोष जताया। परियोजना प्रबंधक से स्पष्टीकरण के निर्देश दिए। यूपीपीसीएल यूनिट-13 ने बताया कि तहसील अतर्रा और नरैनी में अग्निशमन केंद्र में अनावासीय एवं आवासीय भवनों के निर्माण कार्य कराया जा रहा है। 858.36 लाख के सापेक्ष 137 लाख अवमुक्त किए गए है।
इस मौके पर सीडीओ हरिश्चंद्र वर्मा सहित कार्यदायी संस्था के अधिकारी मौजूद थे।
संवाद विनोद मिश्रा