June 13, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

बसपा का दावा- सुशासन की देवी है हमारी ‘माया’!

बांदा डीवीएनए। बसपा की देवी है माया। इनकी माया बसपा की नजर में अपरंपार है।बसपा नेताओं ने पार्टी सुप्रीमो मायावती का 65वां जन्मदिन शुक्रवार को कल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया। ओर अपनी नेता के सम्मान में खूब बढ़ चढ़कर कसीदे पढ़े।कहा कि देश में समतामूलक समाज की स्थापना के कारवां को सिर्फ बसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ही आगे बढ़ा सकती हैं? उन्हें महिला शक्ति का प्रतीक और सुशासन की देवी बताया।
राइफल क्लब ग्राउंड में हुई सभा में बुंदेलखंड सेक्टर प्रभारी डा. मधुसूदन कुशवाहा ने कहा कि बहनजी का जीवन संघर्ष से भरा हुआ है। पूर्व राज्य मंत्री बाबूलाल कुशवाहा ने कहा कि डा. आंबेडकर और कांशीराम के संघर्ष के रास्ते पर चलकर मायावती समतामूलक समाज बना रही हैं।
पूर्व मंत्री रामसेवक शुक्ला ने केंद्र और राज्य सरकारों पर आरोप लगाया कि निजीकरण से देश को फिर गुलाम बनाना चाहती है। जिला उपाध्यक्ष अयूब खां ने मायावती को सर्व समाज का नेता बताते हुए उनके कार्यकाल की योजनाएं याद दिलाई। बसपा नेताओं ने कहा कि पंचायत चुनाव में सबसे ज्यादा बसपा समर्थित प्रत्याशी जीतेंगे। साथ ही अगले वर्ष के विधान सभा चुनाव में भी बसपा अपना परचम लहराएगी।
इसके पूर्व बसपा नेताओं ने गौतम बुद्ध की प्रतिमा पर दीप जलाया और डा. आंबेडकर व कांशीराम के चित्र पर फूल चढ़ाए। संचालन जिला पंचायत पूर्व अध्यक्ष बल्देव प्रसाद वर्मा और महासचिव रामसेवक प्रजापति ने किया। अध्यक्षता जिलाध्यक्ष गुलाब सिंह वर्मा ने की।
सभा के पूर्व जिला अस्पताल में मरीजों को फल बांटे। इस मौके पर किरण यादव, रामराज पटेल, जयराम सिंह (बछेउरा), मयंक द्विवेदी, तवारिक खां, प्रकाश रावत, आरके वर्मा, शिवकरन दिनकर, गणेश द्विवेदी, धीरज राजपूत, अरुण सिंह, कबीर बेदी, विजय बहादुर वर्मा, मूलचंद्र यादव, संजय सोनकर, इरफान अली, शमीम खां, पूर्व डीडीसी रईस अहमद, कमलेश पांडेय, मातादीन अंबेडकर, रमेश सोनी, सुरेश निषाद, सचिंद्र वर्मा (अतर्रा), देवकुमार यादव, मनोज कुशवाहा आदि मौजूद थे।
संवाद विनोद मिश्रा