June 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

सरकारी राशन की दुकानों पर तैनात किया जाए नोडल अधिकारी: CM योगी

लखनऊ (डीवीएनए)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर जनपद चन्दौली के लिए फोर्टिफाइड राइस योजना का वर्चुअल माध्यम से शुभारम्भ किया। ज्ञातव्य है कि भारत सरकार द्वारा पायलेट प्रोजेक्ट के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश के आकांक्षात्मक जनपद चन्दौली का इस योजना हेतु चयन किया गया है।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वी उत्तर प्रदेश में जनपद चन्दौली का चावल उत्पादन में विशेष स्थान है, इसलिए जनपद चन्दौली को चावल का कटोरा कहा जाता है। उन्होंने कहा कि यहां के ब्लैक राइस चावल की बाजार में काफी मांग है। फोर्टिफाइड राइस आयरन, विटामिन बी12 तथा फोलिक एसिड से युक्त होता है, जिससे इसकी न्यूट्रिशिनल वैल्यू काफी बढ़ जाती है, जो कुपोषण को दूर करने में सहायक होता है। इससे बच्चों व महिलाओं का उचित विकास होगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि फोर्टिफाइड राइस प्रत्येक पात्र लाभार्थी को प्राप्त हो।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद चन्दौली में काफी लोगों को कुपोषण व एनीमिया जैसी समस्या है। जनपद में बच्चों एवं महिलाओं में कुपोषण सर्वेक्षण में अधिक पाये जाने पर भारत सरकार द्वारा फोर्टिफाइड राइस को राज्य सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत एवं मध्यान्ह भोजन योजना के तहत कार्डधारकों को वितरण कराये जाने हेतु पायलेट प्रोजेक्ट के रूप मंे प्रदेश मंे जनपद चन्दौली का चयन किया गया है। यह योजना समाज को स्वस्थ बनाने में एक महत्वपूर्ण कड़ी सिद्ध होगी। जनपद चन्दौली से जो परिणाम आएंगे वह इस योजना को पूरे देश में लागू करने में मदद करेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि फोर्टिफाइड राइस योजना के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए। इसके लिए सरकारी राशन की दुकानों पर पोस्टर लगाये जाए। साथ ही, पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से फोर्टिफाइड चावल के गुणों एवं लाभ के विषय मंे सम्पूर्ण जानकारी दी जाए। उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि प्रत्येक सरकारी राशन की दुकान पर एक नोडल अधिकारी तैनात किया जाए। उन्होंने कहा कि वितरण केन्द्रों पर जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाए।
उल्लेखनीय है कि जनपद चन्दौली में चावल का मासिक आवंटन लगभग 37,500 कुन्तल एवं वार्षिक कुल आवंटन 4.5 लाख कुन्तल है। आवंटित चावल की मात्रा को फोर्टिफाइड राइस के रूप में सभी 3.56 लाख राशन कार्डधारकों में वितरित कराया जाएगा। उक्त योजना के कार्यान्वयन हेतु जनपद चन्दौली की 48 चावल मिलों को चिन्हित किया गया है, जिनके द्वारा फोर्टिफाइड राइस को निर्मित कर इसे भारतीय खाद्य निगम की गोदामों में भेजा जाएगा। फोर्टिफाइड राइस योजना का वित्तीय व्यय भार भारत सरकार द्वारा 75 प्रतिशत एवं राज्य सरकार द्वारा 25 प्रतिशत वहन किया जाएगा।
इस अवसर पर महानिदेशक राज्य पोषण मिशन श्रीमती एस0 राधा चैहान, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 तथा सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद श्रीमती वीना कुमारी मीना, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, खाद्य आयुक्त मनीष चैहान, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।