January 25, 2022

DVNA

Digital Varta News Agency

कोविड से कुल 1 करोड़ से अधिक मरीज हुए स्वस्थ

नई दिल्ली डीवीएनए। भारत ने आज कोविड के विरुद्ध लड़ाई में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि दर्ज की है। कुल मिलाकर अब तक कोविड-19 से ठीक होने वाले लोगों की संख्या एक करोड़ से अधिक (1,00,16,859) हो गई है।

पिछले 24 घंटे में 19,587 मरीजों को ठीक करके अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। राष्ट्रीय स्तर पर संक्रमण मुक्ति दर और भी बढ़कर 96.36 प्रतिशत हो गई है। संक्रमित मरीजों तथा स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या के बीच का अंतर (97,88,776) लगातार बढ़ रहा है।

स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या संक्रमित मरीजों की तुलना में 44 गुना है। देश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या आज 2,28,083 हैं, जो अब तक के कुल मामलों की तुलना में केवल 2.19 प्रतिशत हैं।

पांच राज्यों यानी महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु तथा केरल में कोविड से ठीक होने वाले 51 प्रतिशत मामले हैं।

राष्ट्रीय स्तर पर संक्रमण से मुक्त होने की दर 96.36 प्रतिशत है। राष्ट्रीय स्तर पर किए जा रहे प्रयासों का अनुसरण करते हुए, सभी राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में संक्रमण से मुक्त होने की दर 90 प्रतिशत से अधिक है।

भारत में संक्रमण से मुक्त होने की दर विश्व में सबसे अधिक है। संक्रमण के अधिक मामले वाले देशों में भारत की तुलना में संक्रमण से मुक्त होने की दर कम है।

जांच सुविधाएं बढ़ाने से भारत में संक्रामकता दर भी कम हुई है। दैनिक संक्रामकता दर 3 प्रतिशत से कम है। 17 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में साप्ताहिक संक्रामकता दर राष्ट्रीय औसत से अधिक है।

10 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों में नए स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या का 79.08 प्रतिशत हिस्सा पाया गया है। केरल में एक दिन में अधिकतम 5,110 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इसके बाद नए स्वस्थ होने वाले 2,570 लोगों के साथ महाराष्ट्र का स्थान है।

10 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों से नए संक्रमण के 83.88 प्रतिशत मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में केरल में 6,394 मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र मेंकल 4,382 नए मामले सामने आए, जबकि छत्तीसगढ़ में 1,050 नए मामले सामने आए।

पिछले 24 घंटे में कोविड से मृत्यु के 222 मामले सामने आए हैं। इनमें से 67.57 प्रतिशत मामले छह राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों से हैं। महाराष्ट्र में एक दिन में मृत्यु के अधिकतम 66 मामले सामने आए हैं। केरल में 25 लोगों की मृत्यु हुई, जबकि पश्चिम बंगाल में मौतों के 22 नए मामले सामने आए।