June 17, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

अपने जिगर के टुकड़े को फांसी पर लटकाकर खुद मां ने भी अपनी जिंदगी की खत्म

कानपुर (डीवीएनए)। जिस मां ने नौ माह में अपने बच्चे को पाला हो.बच्चे के जन्म के बाद लाड़ प्यार करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। महज कुछ घंटो पहले ही अपने बेटे का उस मां ने बड़े प्यार से जन्मदिन मनाया लेकिन फिर न जाने ऐसी क्या बात हुई कि अपने जिगर के टुकड़े को फांसी पर लटकाकर खुद मां ने भी अपनी जिंदगी को खत्म कर दिया। यह हृदय विदारक घटना जिसने भी सुनी, उसी का कलेजा कांप गया। हर कोई बस यही कह रहा था कि आखिर किस बात पर जरा सी नन्हीं जान की जान लेकर मां ने अपनी भी जिंदगी को ख्त्म कर दिया।
दिल को झकझोर देने वाला यह मामला यशोदानगर के पी ब्लॉक का है। रसूलाबाद की रहने वाली प्रियंका का यशोदानगर निवासी रामजीवन के पुत्र पवन से तीन साल पहले विवाह हुआ था। दोनों के दो साल का एक बेटा शुभ भी था। पवन के पिता डिफेंस कर्मचारी हैं। बताया जाता है कि सोमवार को ही शुभ का जन्मदिन था,इसको लेकर पूरा परिवार काफी खुश नजर आ रहा था। फिलहाल जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक,मंगलवार दोपहर बाद प्रियंका ने अपने कमरे का दरवाजा बंद लिया,इसके बाद पहले बेटे को और फिर खुद भी फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। काफी देर तक जब कमरे से कोई हलचल नही हुई,तब परिजनों ने जब झांककर अंदर देखा,तो सभी के पैरों तले जमीन खिसक गई। प्रियंका और शुभ की मौत से घर में कोहराम मच गया। मौके पर बिधनू पुलिस के साथ ही फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच गई। बेटे के साथ खुद जान देने वाली प्रियंका ने ऐसा कदम क्यों उठाया, इस बारे में परिजन फिलहाल कुछ बताने को तैयार नहीं हुए। पुलिस अब पूरे मामले की पड़ताल में जुटी है।