June 14, 2021

DVNA

Digital Varta News Agency

नकली करेंसी छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़, माँ-बेटी सहित 4 गिरफ्तार, नकली करेंसी बरामद

मेरठ (डीवीएनए)। पुलिस ने गंगानगर थाना इलाके ने एक मकान मे नकली नोट छाप रहे एक गैंग का भंडाफोड़ कर आराेपी सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया,जिनमें मां बेटी सहित कुल 4 आरोपी हैं।
मिली जानकारी के अनुसार गंगानगर पुलिस को सूचना मिली कि एक महिला बाजार में नकली नोट चलाने का काम कर रही है,पुलिस ने उस महिला को गिरफ्तार कर लिया , पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो दर्जनभर लोगों के नाम सामने आए, पुलिस ने पूछताछ के आधार पर महिला के अलावा तीन अन्य को गिरफ्तार किया, पूछताछ की तो सच सामने आया वो चौकाने वाला था, पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि पिछले काफी समय से नकली नोटों के छापने का काम चल रहा था, आरोपी 500 और 2000 के नोट छापते थे और उन्हें मेरठ और आसपास के इलाकों में सप्लाई करते थे, पुलिस ने नोट छापने वाले प्रिंटर को भी बरामद कर लिया है।
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि अभी तक 5 लाख 42 हजार के नकली नोट छाप चुके हैं। जिनमे निर्मित और अर्धनिर्मित नोट शामिल है जिन्हें गंगानगर सहित अन्य क्षेत्रों में सप्लाई किया जा चुका है।
एसपी देहात ने आज पुलिस लाइन्स में इस घटना का खुलासा करते हुए कहा कि नकली नोट छापने के गैंग में शामिल ज्यादातर लोग एक दूसरे के रिश्तेदार हैं। गैंग की मुखिया सिखेड़ा निवासी एक महिला गंगानगर में किराए पर रहती है। यहां सिवाया निवासी उसकी बहन का बेटा रोबिन भी रहता है। गैंग में शामिल पिलखुवा निवासी सिकंदर पर पहले भी कई आपराधिक मामलों में जेल जा चुका है।
पूछताछ में आरोपियों ने प्रशांत नाम के व्यक्ति को गैंग का मास्टर माइंड बताया। लेकिन प्रशांत के जेल में होने के कारण पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। इसके अलावा कई युवतियां भी गैंग में शामिल हैं।