महिलाओं को आर्थिक गतिविधियों से जोड़कर आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की दिशा में करें काम: केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

 
pic

 कोरबा :  केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री  गिरिराज सिंह ने जिला पंचायत सभा कक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होने केन्द्र सरकार द्वारा संचालित मनरेगा, एनआरएलएम, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय पेंशन योजना, जल जीवन मिशन एवं आयुष्मान भारत आदि योजनाओं की विस्तृत समीक्षा की। साथ ही नागरिको के हित के लिए योजनाओं का क्रियान्वयन गंभीरता पूर्वक करने के निर्देश बैठक में मौजूद अधिकारियों को दिये। केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एनआरएलएम द्वारा जिले मे चल रही गतिविधियों की जानकारी लेते हुए कहा कि महिलाओं को आर्थिक गतिविधियों मंे जोड़कर आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की दिशा में काम किया जाए। स्व सहायता समूह की महिलाओं को बैंक लिन्केज के माध्यम से ऋण दिलाकर विभिन्न प्रकार की आजीविका गतिविधियों में शामिल किया जाए। साथ ही महिलाओं को उद्यानिकी, खेती, बकरी पालन, मुर्गी पालन आदि गतिविधियों के लिए प्रशिक्षित किया जाए। पशुपालन में महिलाओं को शामिल करने के लिए पशु सखियों को एआई की भी टेªनिंग दिलाने के निर्देश दिये। उन्होने महिलाओं की आमदनी 10 हजार रूपये प्रति महीना सुनिश्चित करने के लिए विस्तृत प्लान बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। केन्द्रीय मंत्री  सिंह ने मनरेगा के अंतर्गत हो रहे कार्यो की भी समीक्षा की तथा अमृत सरोवर योजना अंतर्गत जिले में हो रहे तालाब निर्माण की भी जानकारी ली। उन्होने मनरेगा के कार्यो की लगातार मानिटरिेंग करने, सोशल आडिट करने तथा ई-मोबाईल मानिटरिंग सिस्टम के तहत् नियमों का क्रियान्वयन करने के भी निर्देश दिये। इस दौरान विधायक पाली तानाखार क्षेत्र मोहितराम केरकेट्टा, विधायक कटघोरा  पुरूषोत्तम कंवर, विधायक रामपुर क्षेत्र ननकीराम कंवर, जिला पंचायत अध्यक्ष शिवकला कंवर, विशेष सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग एवं मनरेगा आयुक्त मो. कैसर अब्दुल हक, कलेक्टर  संजीव झा, पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह, एडीएम  विजेन्द्र पाटले, जिला पंचायत सीईओ  नूतन कंवर सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

केन्द्रीय मंत्री ने योजनाओं से लाभान्वित हितग्राहियों से की वार्ता- केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने जिला पंचायत सभा कक्ष में केन्द्र सरकार की योजनाओं से लाभान्वित हितग्राहियों से चर्चा की। उन्होने स्व सहायता समूह की महिलाओं से आर्थिक गतिविधियों और उससे होने वाले आवक के बारे में जानकारी ली। बैंक सखी  पवन रेखा कंवर ने बताया कि वह मुस्कान स्व सहायता समूह से जुड़कर बैंक सखी के कार्य से निश्चित लाभ अर्जित कर रही हैं। इसी प्रकार दूसरी समूह की महिला ने बताया कि वह दो गाय के माध्यम सेेे रोजाना 8-10 लीटर दूध बेचकर अच्छा लाभ कमा रही है। केन्द्रीय मंत्री ने सुझाव देते हुए कहा कि गाय के अलावा बकरी पालन का भी प्लानिंग करें जिससे अधिक लाभ अर्जित हो सके। केन्द्रीय मंत्री ने  विधि से उन्नत खेती करके अधिक फसल उत्पादन प्राप्त करने वाली कृषि सखी से भी बात की। उन्होने कृषि सखियांे को अपने आस-पास के किसानों को उन्नत खेती के बारे में बताकर प्रोत्साहित करने के लिए भी कहा। केन्द्रीय मंत्री ने रासायनिक उर्वकों के उपयोग को कम करने के लिए बैक्टीरिया कल्चर के माध्यम से उत्पादित जैविक खाद का उपयोग फसल उत्पादन में करने का भी सलाह दिया। किसान अमृत लाल राठिया ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत उनके रहने के लिए बनाये गये मकान के बारे में बताया। धवईपुर के किसान सुरेन्द्र निषाद ने बताया कि पहले कच्चे मकान में रहना पड़ता था अब प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत् बनाये गये पक्के मकान मंे रहने की सुविधा मिल रही है। संतोष कुमार ने मनरेगा के माध्यम से उनके खेत में कूप निर्माण से हो रहे आर्थिक लाभ के बारे में केन्द्रीय मंत्री को बताया। उन्होने कूप निर्माण से सब्जी उत्पादन में मिल रही सहायता तथा प्रति महीने सात से आठ हजार रूपये की आमदनी से भी अवगत कराया। केन्द्रीय मंत्री ने उन्हे अतिरिक्त आमदनी के लिए आम, अमरूद, जामुन और एप्पल बेर की खेती करने के लिए सलाह दिया। इसी प्रकार कटघोरा की रूपा सिंह ने आयुष्मान भारत योजना के तहत् उनके सफल किडनी ट्रांसप्लान्ट से आज स्वस्थ जीवन जीने की कहानी बतायी। उन्होने योजना अंतर्गत मिले आर्थिक सहायता के लिए सरकार का आभार जताया। इसी प्रकार कटघोरा के ही  शेखर साहू ने बताया कि प्रधानमंत्री स्व रोजगार योजना से 25 लाख रूपये का बैंक ऋण प्राप्त हुआ है। जिससे बेकरी का व्यवसाय शुरू करने के पश्चात अच्छा मुनाफा हो रहा है।

From Around the web