चिरायु योजना बना वरदान, 03 बच्चों के आंखों का हुआ इलाज

 
pic
बलरामपुर :  कलेक्टर  विजय दयाराम के. के निर्देशानुसार चिरायु योजनान्तर्गत विकासखण्ड बलरामपुर एवं रामानुजगंज के 03 बच्चों का जन्मजात मोतियाबिंद का सफल ऑपरेशन मेकाहारा रायपुर में किया गया।
जन्मजात मोतियाबिंद से पीड़ित विकासखण्ड रामचन्द्रपुर के ग्राम विमलापुर की अनिमा 14 वर्ष तथा विकासखण्ड बलरामपुर के ग्राम पंचायत खटवाबरदर की समिता नगेसिया एवं पुनीता नगेसिया, जो कि दोनों सगी बहनें हैं, उन्हें चिरायु दल के सदस्य के साथ ऑपरेशन हेतु रायपुर भेजा गया था। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में जन्मजात मोतियाबिंद के 5 बच्चों का सफल इलाज कराया जा चुका है, शेष कुछ बच्चों के परिजन ऑपरेशन में जाने से मना कर रहे हैं, उन्हें समझाइस दी जा रही है, ताकि उनका जल्द इलाज कराया जा सके। उन्होंने बताया कि जन्मजात मोतियाबिंद में शिशु को साफ देखने में परेशानी होती है, यह विकार एक या दोनों आंखों को प्रभावित कर सकता है। यदि समय पर इसका इलाज ना किया जाए तो बच्चे को देखने में दिक्कत या अंधापन हो सकता है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 बसंत सिंह ने अपील की है कि ऐसे बच्चे, जिन्हें कम दिखाई देता है उनका इलाज अपने निकटतम स्वास्थ्य केन्द्रों में अवश्य करायें।

From Around the web