पोड़गांव में टोंगराज बाबा का मंदिर श्रद्धालुओं को समर्पित

 
pic

रायपुर :  भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल आज अंतागढ़ विधानसभा के पोडगांव ग्राम पहुंचे। मुख्यमंत्री ने अंतागढ़ परगना के सिपाही माने जाने वाले टोंगराज बाबा के मंदिर के नए स्वरूप को जनता को समर्पित किया। स्थानीय मान्यताओं के अनुसार जगदलपुर के प्रथम राजा अन्नमदेव के द्वारा अपने राज्य के अंतिम छोर पर बसे अंतागढ़ विधानसभा के पोड़गांव में राज्य की सरहद की रक्षा के लिए टोंगराज बाबा की प्रतिमा को स्थापित करवाया गया था।


आज मंदिर के लोकार्पण पर मां दंतेश्वरी के अंगरक्षक माने जाने वाले देवताओं को भी टोंगराज बाबा के मंदिर में लाया गया था, इसमें क्षेत्र के प्रमुख देव माने जाने वाले कोसर्रा डोकरा बाबा एवं अन्य रक्षक अंतागढ़ की देवता देवली दाई, नयापारा के चूंगा बाबा की भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पारंपरिक विधि विधान से पूजा अर्चना की और ग्राम की रक्षा की कामना देवी देवताओं से की। इस अवसर पर देवगुड़ी परिसर में मुख्यमंत्री ने कदंब के पौधे का रोपण भी किया।


अंतागढ़ विधानसभा के पोडगांव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा देवगुड़ी के दर्शन उपरांत अंतागढ़ विधानसभा ग्राम कामता एवं पानावार की देवगुड़ियों  में साढ़े 5-5 लाख रूपयों की लागत से कराए गए सौंदर्यीकरण कार्य का लोकार्पण तथा 1.62 करोड़ रूपयों की लागत से 26 देवगुड़ियों का सौन्दर्यीकरण कार्य भूमिपूजन किया।

From Around the web